दैनिक भास्कर हिंदी: अनियंत्रित होकर स्कूल बस पलटी, दर्जन भर बच्चे गंभीर रूप से घायल, नशे में था चालक

October 10th, 2018

डिजिटल डेस्क, दमोह। जर्जर बस और नशे का आदि बस चालक का खामियाजा आज उन स्कूली बच्चों को भुगतना पड़ा जो इस बस से अपने घर जा रहे थे। बस पलट जाने से दस बच्चों को गंभीर चोटें पहुंची हैं, जिन्हें उपचारार्थ जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है।

जर्जर बस और गांजा के नशे में था चालक
गौरतलब है कि अंधाधुध कमाई के चक्कर में निजी स्कूल संचालक हर तरह से अविभावकों का शोषण कर रहे हैं। स्कूली बच्चों से पैसे तो पूरे वसमल किए जा रहे थे किंतु उनके लाने ले जाने के लिए जो बस प्रयुक्त की जा रहीं थी वह एकदम जर्जर थी। इतना ही नहीं करेला और नीम चढ़ा की तर्ज पर इस बस का चालक गांजा पीन का आदि था जो दुर्घटना के समय भी गांजा के नशेे में था। इस संबध में बताया गया है कि सागोनी जिले के कुम्हारी थाना अंतर्गत ग्राम देवरी रतन के समीप एक निजी स्कूल बस के अनियंत्रित होकर पलट जाने से उसमें सवार स्कूली बच्चे घायल हो गए जिन्हें इलाज हेतु दमोह के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस द्वारा प्रकरण दर्ज कर जांच की जा रही है।

घर जा रहे थे बच्चे
जानकारी के अनुसार जैन विद्यापीठ की स्कूल की बस ग्राम वर्कसरी खमरिया गांव के बच्चों को लेकर कुम्हारी आ रही थी कि अचानक ग्राम देवरी रतन के समीप मिनी बस क्रमांक एमपी 19 एच 0 106 का स्टेरिंग फेल हो जाने के कारण अनियंत्रित होकर खेत में पलट गई। बस में घटना के दौरान 30 बच्चे सवार थे। इनमें से 10 बच्चों को चोटे आने पर तत्काल ही पटेरा के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भेजा गया जहां से उन्हें इलाज हेतु दमोह के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इन घायल बच्चों में अनिकेत यादव लव कुश पलक आरती जय सिंह कमल यादव आदि प्रमुख हैं।

थाना प्रभारी कुम्हारी ने बताया कि घटना के दौरान बस का ड्राइवर गांजे के नशे में था और वह अधिकांश समय गांजे के नशे में रहता है। बस की हालत भी पहले से ही अत्यधिक खराब है। जिस कारण से कभी भी घटना घटित हो सकती थी। इस संबंध में जिला परिवहन अधिकारी स्वाति पाठक ने तत्काल घटना की जानकारी ले कर संबंधित शाला एवं बस के विरुद्ध कार्यवाही की बात कही है। वहीं पुलिस द्वारा मामला दर्ज कर जांच की जा रही है।