भोपाल: मध्य प्रदेश में 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खुले रहेंगे स्कूल

January 11th, 2022

हाईलाइट

  • मध्य प्रदेश में 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खुले रहेंगे स्कूल

डिजिटल डेस्क भोपाल, । मध्य प्रदेश में 50 प्रतिशत क्षमता वाले सभी वर्गो के छात्रों के लिए स्कूलों में कक्षाएं तब तक जारी रहेंगी, जब तक कि राज्य सरकार आने वाले दिनों में कोरोना महामारी की तीसरी लहर की समीक्षा नहीं कर लेती है। ये जानकारी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दी।

मुख्यमंत्री का यह बयान तेजी से बढ़ रहे कोरोना मामलों की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता करने और इंदौर, भोपाल, जबलपुर, उज्जैन और ग्वालियर सहित कुल मामलों के 75 प्रतिशत से ज्यादा की रिपोर्ट करने वाले जिलों में तैयारियों का जायजा लेने के बाद आया है।

इस बीच, मुख्यमंत्री ने राज्य सचिवालय और जिलों में महामारी की तीसरी लहर के मद्देनजर कोरोना सुरक्षा प्रबंधन की निगरानी करने वाले अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि दैनिक कोरोना से संबंधित डेटा तैयार किया जाए।

चौहान ने कहा, मध्य प्रदेश में रोजाना कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। हालांकि, हम स्थिति की सावधानीपूर्वक निगरानी कर रहे हैं और आने वाले दिनों में स्थिति के अनुसार और ज्यादा प्रतिबंध लगाने के बारे में निर्णय लिया जाएगा। भोपाल, इंदौर और अन्य जिलों में मामलों की संख्या बढ़ रही है, जो निश्चित रूप से हमारे लिए एक बड़ी चिंता है, लेकिन राज्य में कुल मिलाकर कोरोना की स्थिति नियंत्रण में है। 50 प्रतिशत बैठने की क्षमता वाले स्कूलों को स्थिति की समीक्षा के बाद अगला निर्णय होने तक जारी रखने की अनुमति दी गई है।

राज्य सरकार द्वारा सोमवार शाम को जारी स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, राज्य में बीते 24 घंटे में कोरोना के 2,317 नए मामले सामने आए, जिससे सक्रिय मामलों की संख्या बढ़कर 8,599 हो गई है।

कोरोना के 2,317 नए मामलों में से, इंदौर और भोपाल में 645 मामले दर्ज किए गए हैं। इसके बाद ग्वालियर (291), जबलपुर (190), सागर (121) और उज्जैन (93) मामले सामने आए हैं।

 

आईएएनएस