दैनिक भास्कर हिंदी: गार्ड को बंधक बनाकर एटीएम में लूट की कोशिश

December 19th, 2018

डिजिटल डेस्क, सतना। कोटर बस स्टैंड में गार्ड को बंधक बनाकर एटीएम में लूट की कोशिश से सनसनी फैल गई। वहीं पुलिस गश्त का सच भी सामने आ गया। जानकारी के मुताबिक बिरसिंहपुर तिराहे के पास बने महेश अग्रवाल के मकान में एसबीआई का एटीएम बूथ संचालित है, जिसकी देखभाल के लिए रात में ओमप्रकाश तिवारी को तैनात किया गया था। हमेशा की तरह सोमवार रात 10 बजे के बाद वह शटर गिराकर बूथ में सो गया। लगभग एक घंटे बाद कुछ लोगों ने शटर पीटते हुए एटीएम से पैसे निकालने की गुहार लगाई तो गार्ड ने उनके झांसे में आकर जैसे ही शटर उठाया तो नकाबपोश 3 बदमाशों ने उसे दबोच लिया और मुंह में कपड़ा ठूसकर हाथ-पैर बांध दिए। यह सब इतनी तेजी से हुआ कि ओमप्रकाश हक्का-बक्का रह गया।

और फेल हो गई योजना
गार्ड को कब्जे में लेने के बाद नकाबपोशों ने एटीएम में तोडफ़ोड़ शुरू कर दी। करीब आध़े घंटे तक जूझने के बाद काफी हिस्सा खोल लिया, पर लगातार हो रही खटपट से ऊपरी मंजिल में सो रहे मकान मालिक महेश अग्रवाल की नीद खुल गई। तब उन्होंने गार्ड को आवाज लगाई पर कोई जवाब नहीं मिली तो वह सीढिय़ों से नीचे उतरने लगे। महेश को बूथ की तरफ आते देख तीनों बदमाश भाग कर अंधेरे में खड़ी सफेद रंग की टाटा सफारी में सवार हो गए, जिसमें पहले से बैठे चौथे लुटेरे ने गाड़ी स्टार्ट कर बिरसिंहपुर की तरफ दौड़ा दी

बीस मिनट बाद आई एफआरबी
अपराधियों के भाग जाने के बाद मकान मालिक ने गार्ड ओमप्रकाश को बंधन मुक्त किया और डायल 100 पर सूचना दे दी, लेकिन एफआरबी स्टॉफ को मौके पर पहुंचने में 20 मिनट लग गए, तब तक बदमाश उडऩ-छू हो चुके थे।

तब पहुंचीं टीआई
इस वारदात की खबर टीआई सरिता वर्मन को दी गई, लेकिन वह सतना में आराम फरमा रही थीं। मंगलवार सुबह 10 बजे वह तब मौके पर पहुंची, जब फॉरेन्सिक टीम और फिंगर प्रिंट विशेषज्ञ अजीत सिंह भौतिक साक्ष्य जुटाने आए।  यहां रात्रि गश्त के नाम पर खानापूर्ति की जाती है। टीआई समेत ज्यादातर कर्मचारी काम के बहाने मुख्यालय छोड़कर रात होते ही सतना चले जाते हैं। इस वजह से अपराधियों के हौसले बुलंद हैं।

ले गए डीवीआर
शातिर अपराधी रुपए तो नहीं ले जा सके पर अपनी पहचान छिपाने के लिए बूथ में लगे सीसीटीवी कैमरे और डीवीआर खोल ले गए। इतना ही नहीं मशीन को इस कदर क्षतिग्रस्त कर दिया कि सुधार करना नामुमकिन हो गया है। ऐसे में जब तक नई मशीन नहीं लगेगी कोटर के लोग एटीएम सुविधा का लाभ नहीं मिल पाएगा।