दैनिक भास्कर हिंदी: भोपाल पहुंचे शरद यादव, बोले- खतरे में है हमारा लोकतंत्र

August 2nd, 2018

डिजिटल डेस्क, भोपाल। लोकतांत्रिक जनता दल पार्टी प्रमुख और पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव इन दिनों मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल पहुंचे हैं। शरद यादव भोपाल के गांधी भवन में आयेाजित राज्य स्तरीय लोक क्रांति सम्मेलन में शामिल हुए। यहां उन्होंने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि भारत एक लोकतांत्रिक देश है, लेकिन संवैधानिक लोकतंत्र के चारों स्तंभ विधायिका, कार्यपालिका, न्यायपालिका और पत्रकारिता पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं।

पूर्व केंद्रीय मंत्री शरद यादव ने कहा कि हमारा लोकतंत्र खतरे में है। देश की जनता विदेशी आर्थिक शक्तियों द्वारा थोपी जा रही आर्थिक एवं विकास की नीतियों के बोझ तले कराह रहीं हैं। उन्होंने कहा कि देश संवैधानिक संकट के दौर से गुजर रहा है। देश को हजारों साल की गुलामी से बचाने के लिए संवैधानिक लोकतंत्र को बचाना जरूरी है, जो कि नई लोकक्रांति से ही संभव है।

इस कार्य को करने के लिए राजनैतिक समूहों, सामाजिक समूहों, जन आंदोलनों एवं विभिन्न क्षेत्रों में कार्यरत लोगों ने वैकल्पिक राजनीति एवं विकास के लिए लोकक्रांति अभियान का कदम बढ़ाया है। सम्मेलन को अन्य वक्ताओं ने भी संबोधित किया।

कमलनाथ और शरद यादव के बीच चर्चा
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ व शरद यादव के बीच उनके निवास पर गुरूवार की शाम करीब आधे घंटे दोनों के बीच चर्चा हुई। चर्चा के बाद कमलनाथ ने मीडिया से कहा कि मध्यप्रदेश को सुरक्षित रखा जाए। इसके लिए सभी पार्टियों से चर्चा चल रही है। उन्होंने कहा कि मध्य प्रदेश को बीजेपी से मुक्त कराना है।

इस मौके पर शरद यादव ने कहा कि संविधान को बचाना है, तो सभी पार्टियों को एकजुट होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि कमलनाथ से उनकी मुलाकात राजनीतिक नहीं, हम पुराने दोस्त यार है।

इस सम्मेलन में बहुजन संघर्ष दल के अध्यक्ष फूल सिंह बरैया, गोंगपा के संयोजक गुलजार सिंह मरकाम सहित कई अन्य नेतागण उपस्थित थे।