comScore

Photos: शिमला में बर्फबारी के बाद टूरिस्ट बोले- 'बर्फ की सफेद चादर के बीच यहां जन्नत की तरह लग रहा है'   

Photos: शिमला में बर्फबारी के बाद टूरिस्ट बोले- 'बर्फ की सफेद चादर के बीच यहां जन्नत की तरह लग रहा है'   

डिजिटल डेस्क ( शिमला)।  हिमाचल प्रदेश के शहर शिमला में बर्फबारी होने के बाद हर तरफ बर्फ की मोटी परत जम गई। पर्यटक बर्फबारी का लुत्फ उठाते दिखे। एक पर्यटक ने बताया, "बर्फ की सफेद चादर के बीच यहां जन्नत की तरह लग रहा है। सब एक बार शिमला जरूर आएं।"

बहुत दिनों के बाद, हिमाचल प्रदेश की राजधानी में मौसम की सबसे भारी बर्फबारी देखी गई, जिसने कई आंतरिक सड़क संपर्क और बिजली और पानी की आपूर्ति को रोक दिया, लेकिन पर्यटकों को शुक्रवार को एक-दूसरे पर बर्फ के गोले फेंककर मौज-मस्ती करते देखा गया। यही नजारा मनाली में भी देखने को मिला। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने यहां आईएएनएस को बताया, कुफरी और नारकंडा जैसे आस-पास के इलाकों में पिछले 24 घंटों में भारी बर्फबारी हुई। बर्फबारी की खबर फैलते ही शिमला में पर्यटकों का हुजूम उमड़ पड़ा है।

दिल्ली से आईं एक पर्यटक निकिता गुप्ता ने कहा, हम खुशकिस्मत है कि हमें फरवरी में बर्फबारी देखने को मिली। वह अपने दोस्तों के साथ शिमला में मौजूद थीं। उनकी दोस्त रेणुका कौल ने कहा, इससे पहले, हमने बर्फबारी देखने के लिए दिसंबर और जनवरी में कई बार इस हिल स्टेशन का दौरा किया था, लेकिन इस बार की तरह खुशकिस्मत नहीं थे। अब हम दो-तीन दिनों के लिए छुट्टियों को बढ़ाने की योजना बना रहे हैं।

शिमला में शून्य से एक डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान दर्ज किया गया, जबकि 57 सेंटीमीटर से अधिक बर्फबारी दर्ज की गई, वहीं कुफरी और मशोबरा में भी अच्छी-खासी बर्फबारी हुई। मौसम विभाग के एक अधिकारी ने कहा कि शिमला में इसी तरह बर्फीला परिदृश्य दो-तीन दिनों तक बना रहेगा।

तापमान क्रमश: शून्य से 4.3 डिग्री और शून्य से 7.2 डिग्री सेल्सियस....

रिपोर्ट में कहा गया है कि शिमला जिले के जुब्बल, नारकंडा और खड़ापत्थर के कई इलाकों में मध्यम से भारी हिमपात हुआ। अधिकारियों ने कहा कि किन्नौर, शिमला, चंबा, मंडी, कुल्लू और सिरमौर जिलों में ऊंचे पहाड़ी इलाकों की सड़कें भारी बर्फबारी से प्रभावित थीं और उन्हें फिर से खोलने का काम चल रहा था।

राज्य की राजधानी में, आंतरिक सड़कें यातायात के लिए बहुत फिसलन भरी थीं क्योंकि ये बर्फ से ढकी हुई थीं, यहां तक कि सड़कों पर चलना जोखिम भरा था। हालांकि, शिमला नगर निगम ने कार्ट रोड और कुछ वीआईपी सड़कों पर बर्फ को साफ कर दिया है, लेकिन अधिकांश अन्य सड़कों को अभी तक साफ नहीं किया गया है। शिमला में सड़कों और मार्गों की फिसलन भरी परिस्थितियों के कारण, कई पैदल यात्री, जिनमें से अधिकांश पर्यटक हैं, चोटिल हो रहे थे।

शिमला, कुफरी, कसौली और मनाली में पर्यटकों को बहुत मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है क्योंकि अधिकांश पार्ग लॉट फिसलन भरे हैं और अच्छी-खासी मात्रा में बर्फ से ढके हैं। इस बीच, मनाली, जहां 5 सेंटीमीटर बर्फ देखी गई, में जीरो डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज हुआ। कल्पा और लाहौल और स्पीति जिले के केलांग में बर्फबारी हुई। इन शहरों में रात का तापमान क्रमश: शून्य से 4.3 डिग्री और शून्य से 7.2 डिग्री सेल्सियस नीचे देखा गया। मौसम कार्यालय ने शनिवार से शुष्क मौसम होने की भविष्यवाणी की है।

कमेंट करें
rqFM9