दैनिक भास्कर हिंदी: तो मराठा आरक्षण के लिए फडणवीस के नेतृत्व में जाएंगे दिल्लीः मेटे

May 15th, 2021

डिजिटल डेस्क,मुंबई।  मराठा आरक्षण को लेकर विपक्ष-विपक्ष के बीच बयानबाजी जारी है। शनिवार को शिव संग्राम पार्टी के अध्यक्ष विनायक मेटे ने कहा कि यदि जल्द ही राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दाखिल नहीं किया को हम विपक्ष के नेता देंद्र फडणवीस के नेतृत्व में दिल्ली जाएंगे।  सुप्रीम कोर्ट द्वारा मराठा आरक्षण रद्द किए जाने के बाद बीते गुरुवार को  केंद्र सरकार ने यह कहते हुए सुप्रीम कोर्ट में पुनर्विचार याचिका दाखिल की है कि राज्यों को आरक्षण देने का अधिकार है। मेटे ने कहा कि पुनर्विचार याचिका दाखिल करने की अपेक्षा राज्य सरकार से थी पर दुर्भाग्य से ऐसा नहीं हो सका। उन्होंने कहा कि केंद्र के पुर्विचार याचिका दाखिल करने से मराठा समाज को संतोष मिला है।

सच्चाई कहने से नाराज हुए चव्हाणः पाटील
दूसरी ओर मराठा आरक्षण को लेकर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटील और मराठा आरक्षण मंत्रिमंडल उप समिति अध्यक्ष अशोक चव्हा के बीच वाक युद्ध जारी है। शनिवार को पाटील ने प्रेस कांफ्रेंस कर एक बार फिर चव्हाण पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि मैंने मराठा आरक्षण को लेकर सच्चाई बयान की तो चव्हाण को बुरा लग रहा है। पर इस वजह से हम चुप नहीं रहेंगे। भाजपा नेता ने कहा कि कोरोना महामारी के चलते हम मराठा युवकों को अपनी नाराजगी जताने से भी नहीं रोकेंगे। उन्होंने कहा कि आम मराठा यह बात समझ गया है कि यह सरकार मराठा आरक्षण देना ही नहीं चाहती। क्योंकि महा विकास आघाडी सरकार की लापरवाही से सुप्रीम कोर्ट में मराठा आरक्षण रद्द हुआ है। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि फिलहाल मराठा समाज के लिए 3 हजार करोड़ कै पैकेज घोषित किया जाना चाहिए।  

खबरें और भी हैं...