दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर एयरपोर्ट पर सुरक्षा होगी और तगड़ी, ईवीडी से भी होगी जांच

April 9th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  नागपुर एयरपोर्ट पर सुरक्षा व्यवस्था और कड़ी कर दी गई है। आने वाले यात्रियों सहित एयरपोर्ट की सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। इसी कड़ी में जल्द ही एक्सप्लोसिव वेपर डिटेक्टर (ईवीडी) मशीन और बंब सूट केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) के बेड़े में जुड़ने वाला है।

बढ़ रही व्यवस्था 
संतरानगरी का विमानतल अंतरराष्ट्रीय है। यहां से यात्री सीधे दोहा और कतर के लिए उड़ान भरते हैं। ऐसे में विमानतल की सुरक्षा को लेकर अंतरराष्ट्रीय मानकों को पूरा करना होता है, जिसमें समय-समय पर सुधार होता रहता है। हाल ही में विमानतल पर कूलिंग पिट तैयार किया गया है, जिसमें किसी भी प्रकार की विस्फोटक सामग्री को निष्क्रिय किया जा सकता है। वहीं, अति विशिष्ट व्यक्ति (वीवीआईपी) वाले गेट की सुरक्षा को भी मानकों के हिसाब से कड़ा कर दिया गया है। 
यहां से अंदर जाने वाले प्रत्येक व्यक्ति की भी अब सघन जांच होगी। अब जल्द ही ईवीडी मशीन और बंब सूट सीआईएसएफ की सुरक्षा में तैनात होने वाला है।

यह है इसका उपयोग
ईवीडी मशीन का उपयोग विमानतल पर विस्फोटक सामग्री का पता लगाने के लिए किया जाता है। यदि विमानतल पर कहीं कोई संदिग्ध हालत में कोई सामान मिलता है तो वह उसकी जांच की जाती है। जबकि बंब सूट का उपयोग बंब मिलने की स्थिति में उसको निष्क्रिय करने के लिए किया जाता है।   हालांकि विमानतल के अंदर पहुंचने के पहले ही यात्रियों के सामान को एक्स-रे मशीन सहित मेटल डिटेक्टर मशीन से जांच लिया जाता है। वहीं इसके अतिरिक्त विमानतल पर समय-समय पर मॉक ड्रिल कर सुरक्षा व्यवस्थाओं की जांच की जाती है कि वह कितने समय पर टॉस्क को पूरा कर रहे हैं।

इसलिए है जरूरी 
नागपुर से कुछ ही किलोमीटर दूर पर नक्सली प्रभावित क्षेत्र है। नागपुर शहर भी राजनीति की दृष्टि से संवेदनशील बना हुआ है। एक ओर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का मुख्यालय है, तो दूसरी ओर  डॉ.बाबासाहब आंबेडकर की दीक्षाभूमि जिसके चलते यहां हमेशा ही राजनेताओं का आना-जाना लगा रहता है। इनके अतिरिक्त वर्तमान में मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस व केन्द्रीय मंत्री नितीन गडकरी का यहां निवास स्थान है। ऐसे में विमानतल की सुरक्षा की अत्यन्त आवश्यकता जताई जा रही है।