comScore

मजदूरों के लिए एस टी बस सेवा की अवधि बढ़ाई, 98 बसें रवाना

मजदूरों के लिए एस टी बस सेवा की अवधि बढ़ाई, 98 बसें रवाना

डिजिटल डेस्क, नागपुर। प्रवासी मजदूरों के लिए राज्य मार्ग परिवहन महामंडल की ओर से बस संचालन की अवधि बढ़ा दी गयी है ।पहले यह बसें 17 मई तक चलने वाली थी। लेकिन अब इसकी अवधि 31 मई तक की गयी है। ताकि मई माह के खत्म होने तक पूरी तरह से मजदूर अपने घर पहुंच सके। इसके अलावा स्पेशल ट्रेन से नागपुर रेलवे स्टेशन पर आने वाले यात्रियों के लिए भी 44 रुपये प्रति किमी के अनुसार बसों का संचालन किया जा रहा है। सोमवार को अवधि बढ़ाने के पहले दिन ही 98 बसों को नागपुर गणेशपेठ बस स्टैण्ड से विभिन्न बॉर्डर की ओर भेजा गया है। मंगलवार को भी 50 से ज्यादा बसों का संचालन किया गया।

नागपुर में कई निर्माण कार्य जारी है। ऐसे में बालाघाट, शिवनी, छत्तीगड़, मध्यप्रदेश आदि जगहों से हजारों की संख्या में मजदूर वर्ग आकर अपना पेट पालते हैं। होली या दिवाली को ही अपने घर से नागपुर लौट आ जाते थे। लेकिन इन दिनों शहर में  22 मार्च से तालाबंदी की स्थिति है। रेलवे से लेकर राज्य परिवहन महामंडल की बसों को बंद कर दिया था। ऐसे में नागपुर में अटके इन मजदूरों को अपने घर वापसी के लिए कोई साधन नहीं था। परिणामस्वरूप हजारों की संख्या में मजदूर अपने घर नहीं जा रहे थे। ऐसे में सरकार की ओर से विदर्भ के हर जिले से मजदूरों का पलायन करना शुरू कर दिया। जिसके लिए एस टी बसों का मुख्य उपयोग किया जा रहा है।

एक बस में 22 मजदूरों को बैठाकर सोशल डिस्टेंसिंग मेंटेन करते हुए बसों को रवाना किया जा रहा है। गत एक सप्ताह में नागपुर से एक हजार तक बसें चलाई है। जिसमें हजारों की संख्या में मजदूरों को भेजा जा रहा है। मजदूरों को बसों से छिंदवाड़ा सपनुर बॉर्डर, खवासा शिवनी बॉर्डर, बोनकट्‌टा बालाघाट बॉर्डर, बाग नदी छत्ता बॉर्डर, वडचिचोली बैतुल बॉर्डर तक छोड़ा जा रहा है। अभी तक 17 मई तक ही बसों का संचालन करना तय था। लेकिन मजदूर अभी भी नागपुर समेत विदर्भ के अनेक जिलों में अटके रहने का चित्र सामने होने से इनके लिए बसों के संचालन की अवधि को बढ़ाया गया है। अब 31 मई तक बसें चलाई जाएगी।

रेलवे से आनेवाले यात्रियों के लिए भी सुविधा

अधिकारियों ने बताया है, कि रेलवे की ओर से शुरू की स्पेशल ट्रेनों से कई यात्री नागपुर में पहुंच रहे हैं। जिन्हें अपने घर भेजना जरूरी है। राज्य मार्ग परिवहन महामंडल की ओर से इनके लिए भी बसों की व्यवस्था की है। प्रक्रिया पूरी कर 44 रुपये प्रति किमी के अनुसार 22 लोगों के ग्रुप को चंद्रपुर, गड़चिरोली, नांदेड, अमरावती, नरखेड आदि जगह बसों के माध्यम से भेजा जा रहा है। 31 मई तक यह प्रक्रिया भी शुरू रहने वाली है।

कमेंट करें
0Infq