दैनिक भास्कर हिंदी: गली-गली बिकता है नागपुरी खर्रा, 250 मरीज मुख कैंसर के मिले

May 31st, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। तंबाकू के दुष्परिणामों से लोगों को बचाने के लिए 31 मई को तंबाकू निषेध दिन मनाया जाता है, लेकिन शौकीनों पर इस दिन का असर होता दिखाई नहीं दे रहा। संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है। नागपुरी खर्रा तो गली-गली बिक रहा है। सरकार ने तंबाकू व तंबाकूजन्य वस्तुओं पर बिक्री पर पाबंदी लगाई है, लेकिन चोरी-छिपे आयात हो रहा है। शासकीय दंत महाविद्यालय व अस्पताल में पिछले चार साल में 2500 मरीज मुख प्री-कैंसर के और 250 मरीज मुख कैंसर के पाए गए हैं।

बढ़ रही मरीजों की संख्या
प्राप्त जानकारी के अनुसार, 2007 में प्री-कैंसर के 415 मरीज पाए गए थे। 2008 में यह संख्या घटकर 323 हुई। 2012 से इस बीमारी के मरीज लगातार बढ़ते गए। 2016 में यह संख्या 1547 पर जा पहुंची। वहीं, 2007 में मुख कैंसर के 59 मरीजों का उपचार किया गया। 2013 से यह संख्या बढ़ती गई। 2014 में 91, 2015 में 112, 2016 में यह संख्या दोगुनी से अधिक 266 हुई। 2017 से लेकर अब तक 2500 मरीज प्री-कैंसर के और 250 मरीज मुख कैंसर के पाए गए हैं। इन चार सालों में पहले दो साल तक मरीजों की संख्या 80 फीसदी से अधिक रही है। कोरोनाकाल प्रारंभ होने के कारण मरीजों की संख्या कम हो गई है।