comScore

संक्रमण की रफ्तार रोकने प्रशासन के कड़े कदम, जुर्माना वसूलने की तैयारी

संक्रमण की रफ्तार रोकने प्रशासन के कड़े कदम, जुर्माना वसूलने की तैयारी

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  नागपुर में फिलहाल लॉकडाउन तो नहीं लगाया जा रहा है, लेकिन कोरोना संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए प्रशासन अब सख्त कदम उठाने जा रहा है।  मास्क नहीं पहनने व अनावश्यक भीड़ का अंग बनने पर जुर्माने के साथ सख्त कार्रवाई की जाएगी। पालकमंत्री डा. नितीन राऊत व गृह मंत्री अनिल देशमुख ने विभागीय आयुक्तालय में हुई बैठक में  उपाय योजनाओं पर बल दिया।

मेडिकल छात्रों की लें मदद
डॉ. राऊत ने मनुष्यबल की कमी को देखते हुए शासकीय-निमशासकीय मेडिकल कालेज के अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों की सेवा लेने के निर्देश प्रशासन को दिए। 

‘कोरोना योद्धाओ’ के लिए बेड आरक्षित
वैद्यकीय सेवा व पुलिस विभाग में काम करनेवाले कोरोना योद्धाआें के लिए बेड आरक्षित रखने का निर्णय लिया गया। ऐसे योद्धाआके लिए अत्याधुनिक अस्पताल तैयार करने की सूचना मनपा को की गई। 

अधिकारी सतर्क रहें
मृत्यु दर नहीं बढ़े, अधिकारी इस पर पूरा ध्यान दें 
हर अधिकारी जिम्मेदारी का कड़ाई से पालन करें 
पुलिस भी नियमों का पालन कराने सख्ती बरते 

डा. राऊत ने डेडिकेटेड कोविड अस्पतालों की  संख्या बढ़ाने के निर्देश मनपा प्रशासन को दिए। 
सरकारी अस्पताल से कोरोना रोगी वापस न जाए, इसका विशेष ध्यान रखने को कहा। 
बेड की जानकारी देनेवाला डैशबोर्ड तुरंत लगाने के निर्देश दिए। 
मेयो व मेडिकल में वॉर रूम बनाने, समन्वय बनाकर काम करने, रोगियों के रिश्तेदारों की संख्या अस्पताल से कम करने व नियोजन करके काम करने को कहा। 
ऑक्सीजन कंपनियों के प्रतिनिधियों से भी चर्चा की। शासकीय व निजी अस्पतालों में आक्सीजन की कमी न हो, इसका ख्याल रखने को कहा। 

अगला कदम 
हेल्थ सिस्टम की मदद लेने के अलावा वरिष्ठ अधिकारियों की मदद ली जाएगी।

अधिकारियों के पास  बेड मैनेजमेंट, कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग, प्रशासनिक जिम्मेदारी रहेगी। 

कमेंट करें
vqZCS