दैनिक भास्कर हिंदी: मुंबई में अचानक ब्रेकडाउन अधिकारियों की नाकामी -बावनकुले

March 3rd, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर। प्रदेश भाजपा महामंत्री चंद्रशेखर बावनकुले ने 12 अक्टूबर को मुंबई में हुए ब्रेकडाउन के लिए सरकार को जिम्मेदार मानते हुए आरोप लगाया कि सरकार अपनी नाकामी छिपाने के लिए साइबर अटैक व चीन का हाथ बता रही है। उन्होंने दावा किया कि प्रदेश की बिजली व्यवस्था पर साइबर अटैक संभव नहीं है। यह ब्रेेकडाउन अधिकारियों की गलती का नतीजा है। 

अधिकारी की रिपोर्ट
बावनकुले ने प्रेस क्लब में हुई पत्रकार वार्ता में बताया कि गत वर्ष 12 अक्टूबर को मुंबई में बिजली गुल हो गई थी। जांच के लिए सरकार ने कमेटी बनाई थी। एक आईपीएस अधिकारी ने इसके लिए साइबर अटैक व चीन को जिम्मेदार बताते हुए अपनी रिपोर्ट सरकार को सौंपी है। उन्होंने आरोप लगाया कि सरकार अपनी नाकामी व अधिकारियों की गलती छिपाने के लिए साइबर अटैक की बात कह रही है, जबकि राज्य में बिजली व्यवस्था पर साइबर अटैक संभव नहीं है। 

उन्होंने सवाल किया कि अगर चीन का हाथ है, तो राज्य सरकार ने यह जानकारी केंद्र से साझा क्यों नहीं की। केंद्रीय एजेंसियों की मदद क्यों नहीं ली। मुंबई ब्रेकडाउन में अधिकारियों से हुई बड़ी गलती है आैर इस पर परदा डालने के लिए इस तरह की रिपोर्ट तैयार की गई है। उन्होंने आरोप लगाया कि एक आईपीएस  अधिकारी के भरोसे पर सरकार झूठ बोल रही है। रिपोर्ट स्वीकार करनेवाले दोनों मंत्रियों को हटा देना चाहिए। उन्होंने कहा कि पूरे मामले की जानकारी केंद्र सरकार को दी जाएगी। बजट सत्र में पार्टी की तरफ से यह मुद्दा उठाया जा सकता है। इस दौरान पूर्व महापौर अर्चना डेहनकर, केंद्रीय खादी ग्रामोद्योग के जयप्रकाश गुप्ता, पार्षद धर्मपाल मेश्राम, अश्विनी जिचकार, चंदन गोस्वामी मौजूद थे। 

बिजली विभाग को तरीके से घूंट-घूंटकर पिया हूं 
बावनकुले ने कहा कि पांच साल तक बिजली विभाग का कामकाज देखने के साथ ही बिजली विभाग को घूंट-घूंटकर पिया हूं। सरकार अपनी गलती दूसरों पर ढकेल रही है।