comScore

छोटी-छोटी तकलीफ भी हो सकती है कोविड-19 के लक्षण, जानिए पूरी जानकारी

छोटी-छोटी तकलीफ भी हो सकती है कोविड-19 के लक्षण, जानिए पूरी जानकारी

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  बोलने और चलने में परेशानी भी कोरोना वायरस के गंभीर लक्षण हो सकते हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन के विशेषज्ञों ने कोरोना वायरस के नए लक्षण के प्रति पूरी दुनिया को आगाह किया है। नागपुर के पल्मनोलॉजिस्ट डॉ. अशोक अरबट के अनुसार कोरोना के वायरस शरीर के कमजोर अंगों पर वार करते हैं। अगर वायरस का हमला मष्तिष्क पर होता है, तो बोलने और चलने में परेशानी हो सकती है। अब तक दुनियाभर के डॉक्टर कफ या बुखार को कोरोना वायरस के मुख्य लक्षण बताते रहे हैं। अब विशेषज्ञों की सलाह है कि, बोलने या चलने में परेशानी हो रही है, तो तत्काल डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

ठीक हुए लोगों ने साझा किया अनुभव
इस महामारी से ठीक हुए लोगों के अनुसार अन्य लक्षणों के साथ-साथ बोलने में परेशानी होना कोरोना वायरस से संक्रमित होने का संभावित लक्षण है। कोरोना वायरस से प्रभावित अधिकतर लोगों को सांस लेने में हल्की परेशानी हो सकती है। गंभीर लक्षणों में सांस लेने में दिक्कत और सीने में दर्द या दबाव, बोलना बंद होना या चलने-फिरने में परेशानी, गंभीर लक्षण हैं।

नागपुर में अधिकतर मरीज बगैर लक्षण वाले
 नागपुर में कोरोना के अधिकतर मरीजों में कोरोना में लक्षण नहीं दिखाई दिए हैं।  मरीजों के उपचार और डिस्चार्ज किए जाने संबंधी दिशा-निर्देश के कारण बगैर लक्षण वाले मरीजों को सात दिन के बाद डिस्चार्ज करने की अनुमति दे दी गई है। इसके तहत नागपुर में तीन दिन में सौ से ज्यादा मरीज डिस्चार्ज किए जा चुके हैं।

कोविड-19 वायरस शरीर के उन अंगों को प्रभावित करता है, जो कमजोर होते हैं। अगर कोई किडनी का मरीज है, तो उसे किडनी संबंधी परेशानी सबसे पहले होगी। अगर वायरस दिमाग पर असर करेगा, तो चलने, बोलने, सूंघने और स्वाद क्षमता कम होने जैसे लक्षण दिखेंगे।-डॉ अशोक अरबट, पल्मनोलॉजिस्ट

कोरोना लक्षण
बुखार {सूखी खांसी।
सांस में तकलीफ।
गले में खराश।
सिरदर्द, मांसपेशियाें में दर्द और थकान।
सर्दी, बलगम वाली खांसी।
जी मिचलाना एवं उल्टी।
ठंड लगना / कंपकपी आना।
स्वाद या सूंघने की शक्ति कम होना।
रोगी के हाथ एवं पैरों में झुनझुनी आना।
रोगी के हाथ एवं पैरों में सूजन आना। {रोगी के जांघों एवं पैरों की मांसपेशियाें में सूजन आना।
मरीज को अचानक शरीर में कहीं भी दर्द होना।
चलने में तकलीफ होना।
शरीर के अंगों में लालपन अथवा कालापन होना।
सीने में अचानक दर्द होना।
त्वचा में अचानक नीलापन/कालापन आना।
कंधों में दर्द होना।
कमजोरी महसूस करना।
 
 
 

कमेंट करें
bWjke