comScore

जनप्रतिनिधियों को विश्वास में लेकर लॉकडाउन का निर्णय लें आयुक्त- जोशी

जनप्रतिनिधियों को विश्वास में लेकर लॉकडाउन का निर्णय लें आयुक्त- जोशी

डिजिटल डेस्क, नागपुर। मिशन बिगीन अगेन... लागू कर राज्य सरकार ने लॉकडाउन में शिथिलता दी है। इसी के साथ कोविड-19 के दिशा-निर्देशों का पालन करने की शर्त रखी गई है। नागरिक नियमों का उल्लंघन कर रहे हैं। इसे रोकने के लिए मनपा आयुक्त ने फिर लॉकडाउन करने की चेतावनी दी है। महापौर संदीप जोशी ने कहा कि आयुक्त की चेतावनी का मैं समर्थन करता हूं, लेकिन निर्णय लेने से पहले शहर के सभी जनप्रतिनिधियों को विश्वास में लेने का सुझाव दिया। 

मनपा आयुक्त तुकाराम मुंढे ने 11 जुलाई को एक वीडियो जारी कर नागरिकों से काेरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए दिशा-निर्देशों का पालन नहीं करने पर लॉकडाउन में सख्ती करने की चेतावनी दी है। महापौर ने कहा कि लॉकडाउन शिथिल करने पर नागरिक नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं, जिसके कारण संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है, यह वास्तविकता है। नागरिकों को ढील दी गई, उसका दुरुपयोग कर खुलेआम उल्लंघन हो रहा है।

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए लॉकडाउन का निर्णय स्वागतयोग्य है, परंतु इस निर्णय से मेहनत, मजदूरी कर परिवार का पेट पालनेवाले तथा मध्यम वर्ग सबसे अधिक प्रभावित होगा। इस बात को ठीक से समझने के लिए आयुक्त को मेरे साथ संयुक्त दौरा करना चाहिए। जो व्यापारी नियम का पालन नहीं कर रहे हैं, ऐसे बाजारों में महापौर और आयुक्त का संयुक्त दौरा करने से नागरिकों में एक अलग संदेश जाएगा। इसके सकारात्मक परिणाम भी आ सकते हैं। इसके बावजूद परिस्थिति नियंत्रण में नहीं आने पर लॉकडाउन का निर्णय लिया जा सकता है। यह निर्णय लेने से पहले आयुक्त को शहर के सभी जनप्रतिनिधि सांसद, विधायक, मनपा पदाधिकारी, जिलाधिकारी, पुलिस प्रशासन को विश्वास में लेना अपेक्षित है। लॉकडाउन के क्या नियम होंगे, इस विषय पर चर्चा होनी चाहिए। कोई भी दिक्कत आने पर नागरिक पहले जनप्रतिनिधि के पास पहुंचते हैं।
 

कमेंट करें
YDxEg