comScore

MLA होस्टल के आंदोलन से प्रशासन ने लिया सबक, सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई गई

October 23rd, 2018 16:03 IST
MLA होस्टल के आंदोलन से प्रशासन ने लिया सबक, सुरक्षा व्यवस्था बढ़ाई गई

डिजिटल डेस्क, नागपुर। MLA होस्टल में विधायक बच्चू कड़ू द्वारा किए गए आंदोलन और उससे हुए नुकसान से  सबक लेते हुए पुलिस ने जिलाधीश परिसर में विधायक कडू के आने के दो घंटे पूर्व से जबरदस्त बंदोबस्त लगा दिया । परिसर में जगह-जगह पुलिस तैनात करने के साथ ही कर्मचारियों के लिए बने टॉयलेट-बाथरूम के रास्ते पर भी ताले लगा दिए गए। प्रशासन को अंदेशा था कि, विधायक समर्थक कहीं छत पर चढ़कर वीरू स्टाइल आंदोलन न करने लगें। हालांकि विधायक कडू जिलाधीश कार्यालय पहुंचे आैर जिलाधीश अश्विन मुद्गल को महापरीक्षा पोर्टल बंद करने का निवेदन देकर निकल गए। विधायक व उनके समर्थक कलेक्ट्रेट से जाते ही पुलिस ने राहत की सांस ली। 

हर किसी पर रखी गई नजर
विधायक बच्चू कडू के नेतृत्व में एंटी महापरीक्षा पोर्टल समिति के कार्यकर्ता जिलाधीश कार्यालय पहुंचने की सूचना मिलने पर कलेक्ट्रेट में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया। हर आने-जाने वाले शख्स पर नजर रखी जा रही थी। खुफिया पुलिस भी नजर रख रही थी। दो दिन पूर्व ही विधायक निवास में आंदोलन से पुलिस की काफी फजीहत हुई थी। इससे बचने के लिए पुलिस ने कर्मचारियों के लिए बने-टॉयलेट बाथरूम के रास्तों पर ताले लगा दिए थे। विधायक कडू विद्यार्थियों के साथ जिलाधीश परिसर पहुंचते में ही सदर थाने के वरिष्ठ इंस्पेक्टर सुनील बोंडे ने उनके पास जाकर खुद चर्चा की।

तैनात रहे दर्जनों पुलिस कर्मी
पुलिस बंदोबस्त में कडू को जिलाधीश के चेंबर में ले जाया गया। कडू ने महापरीक्षा पोर्टल से ली जा रही स्पर्धा परीक्षा में भ्रष्टाचार होने का आरोप लगाते हुए इस महापोर्टल को बंद कर एमपीएससी के मार्फत स्पर्धा परीक्षा लेने की मांग की। यह पोर्टल निजी कंपनी का है। जिलाधीश श्री मुद्गल ने इस पर सकारात्मक विचार करने का आश्वासन दिया।  जिलाधीश के चेंबर के पास दर्जन भर जवान तैनात किए गए थे। 

...और पुलिस ने खोल दिए ताले
विधायक कडू निवेदन देकर महज 15 मिनट में समर्थकों के साथ वहां से निकल गए। उनके जाते ही पुलिस ने राहत की सांस ली। बाथरूम-टॉयलेट के रास्तों पर लगाए गए ताले भी खोल दिए गए। प्रतिनिधिमंडल में जैन कलार समाज के अनिल अहिरकर, प्रशांत काकडे, विनायक तडस, राहुल पोटे, कमलेश मेश्राम, विक्की ठाकरे, सुरेश माने, छगन बडोले आदि माैजूद थे। 

कमेंट करें
JREaU