दैनिक भास्कर हिंदी: शिक्षकों को चुनाव ड्यूटी से बचना पड़ा भारी, अब हो गई परमानेंट छुट्टी

March 23rd, 2019

डिजिटल डेस्क, रायपुर। लोकसभा चुनाव में ड्यूटी से बचने के लिए कर्मचारी कई बहाने बना रहे है। रायपुर में भी शिक्षकों ने ऐसा ही किया, लेकिन उनको यह सब भारी पड़ गया। कलेक्टर ने शिक्षकों को रिटायरमेंट का आदेश दे दिया है। कलेक्टर बसव राजू ने चार शिक्षकों के खिलाफ रिटायरमेंट का निर्देश जिला शिक्षा अधिकारी को भेजा है। कलेक्टर के निर्देश के बाद डीईओ की तरफ से संबंधित शिक्षकों के खिलाफ नोटिस जारी कर दिया है।

छत्तीसगढ़ में होने वाले तीन चरणों के चुनाव में शिक्षकों की चुनाव ड्यूटी लगाई गई है। रायपुर से पूर्व माध्यमिक शाला छांटा के शिक्षक मनोज कुमार साहू, शासकीय उच्च माध्यमिक स्कूल टेकारी की शिक्षिका नमिता वर्मा, शासकीय उच्च माध्यमिक स्कूल टेकारी की शिक्षिका रचना मिश्रा और विद्या मंदिर जुगसेर से शिक्षिक गोपीराम जांगडे ने चुनाव ड्यूटी लगने के बाद मेडिकल ग्राउंड के आधार पर छुट्टी के लिए आवेदन दिया। चारों शिक्षकों ने मांग की थी कि उन्हें बीमारी के आधार पर चुनाव ड्यूटी से मुक्त किया जाए। 


चारों शिक्षकों ने खुद को डायबिटीज का मरीज बताया। कलेक्टर ने आदेश जारी करते हुए सभी के खिलाफ अनिवार्य सेनानिवृति का प्रस्ताव डीईओ को भेजने को कहा है। सभी के खिलाफ अनिवार्य सेवानिवृति का प्रस्ताव तैयार कर जिला निर्वाचन कार्यालय को अवगत कराने को कहा गया है।