दैनिक भास्कर हिंदी: नागपुर मनपा की सभा फिर मुंढे पर ही बोला गया हमला

June 24th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर। 20 जून को हुई मनपा की आमसभा का त्याग कर आयुक्त तुकाराम मुंढे चले गए थे। इसके बाद  आमसभा में मुंढे की उपस्थिति को लेकर रहस्य बना था। हालांकि, वह सभा में आए और अंत तक बैठे रहे। उधर, मनपा की स्थगित आमसभा में कोविड-19 की उपाय योजना पर चर्चा हुई तो नगरसेवकों ने आयुक्त तुकाराम मुंढे को कटघरे में खड़ा किया। 20 जून की आमसभा में नगरसेवक नितीन साठवणे ने उनके खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज किए जाने के मुद्दे पर स्थगत प्रस्ताव पेश किया था। मंगला गौरे ने प्रभाग में वर्क ऑर्डर किए गए विकास कार्यों को ब्रेक लगाए जाने से नागरिकों की असुविधा के मुद्दे पर स्थगत प्रस्ताव दिया था, पर बाद में वापस ले लिया था। इसको लेकर सवाल भी खड़े हुए हैं। सदस्यों ने कोविड-19 की उपाय योजना में जनप्रतिनिधियों को विश्वास में नहीं लेने का मुद्दा उठाकर आयुक्त के खिलाफ नाराजगी जताई।  शाम 5:30 बजे सभा स्थगित कर दी गई

आयुक्त पर निशाना साधा
 साठवणे के प्रस्ताव पर चर्चा में अन्य सदस्यों ने हिस्सा लेकर मनपा आयुक्त की कार्यप्रणाली पर आक्रोश जताया। कोरोना संक्रमण की रोकथाम की उपाय योजना में जनप्रतिनिधियों को विश्वास में नहीं लेने के मुद्दे पर सभी ने आयुक्त पर निशाना साधा। आयुक्त पर राजनीति से प्रेरित होकर सत्तापक्ष की छवि धूमिल करने का आरोप मढ़ा। 

 

 

खबरें और भी हैं...