28 फरवरी से मैदान में:  तेज होगा स्वतंत्र विदर्भ राज्य का आंदोलन

February 14th, 2022

डिजिटल डेस्क,चंद्रपुर। स्वतंत्र विदर्भ राज्य निर्माण हो, इसके लिए संपूर्ण विदर्भ में जनजागरन कर विदर्भ के ज्वलंत प्रश्न हल करने के लिए विदर्भ हासिल करेंगे इस भूमिका के तहत नागपुर अधिवेशन के पहले दिन 28 फरवरी को वेरायटी चौक में मानवी श्रृंखला कर विदर्भ आंदोलन समिति आंदोलन का बिगुल फुंकेंगी। संविधान की धारा 3 के तहत राज्य निर्मिती का अधिकार कंेद्र सरकार व संसद का होने के चलते पहली बार ही 11 मार्च 2022 को केंद्र सरकार के नागपुर के सेमीनरी हिल्स कार्यालय संकुल के सामने आंदोलन किया जाएगा।  इसके बाद यह स्वतंत्र विदर्भ की मांग प्रभावी रूप से राज्यकर्ताओं के सामने रखने के लिए संसद के बजट अधिवेेशन के दूसरे चरण में 7 अप्रैल 2022 को जंतरमंतर से संसद पर हल्लाबोल आंदोलन करने की घोषणा रविवार को चंद्रपुर में आयेाजित पत्र-परिषद में विदर्भ राज्य आंदोलन समिति ने की।

स्वतंत्र विदर्भ राज्य निर्मिती का मिशन 2023 का नारा देते हुए इस नागपुर में मानवी श्रृंखला व दिल्ली में संसद पर हल्लाबोल आंदोलन में नागरिकों ने बड़ी संख्या में उपस्थित रहने की अपील समिति के पदाधिकारियों ने पत्र परिषद के माध्यम से की।   इस दौरान विदर्भ राज्य के संबंध में विस्तृत जानकारी पत्र परिषद के माध्यम से समिति के अध्यक्ष एड.वामनराव चटप, प्रकाश पोहरे, अरूण केदार, रंजना मामर्डे, मुकेश मासुटकर, कोंडबत्तुनवार, रमेश गजबे, किशोर दहेकर, नितीन भागवत कपिल इद्दे आदि द्वारा दी गई। 

 

खबरें और भी हैं...