चंद्रपुर-गड़चिरोली: घात लगाए बाघ का हमला, दो जगह पर दो की मौत

May 14th, 2022

डिजिटल डेस्क,. चंद्रपुर/गड़चिरोली। जिलों में अलग-अलग जगह बाघ के हमलों में दो लोगों की मौत हो गई। घटनाएं शनिवार 14 मई की सुबह हुई।  चंद्रपुर जिले के ताड़ोबा अंधारी व्याघ्र प्रकल्प के मोहर्ली परिक्षेत्र के सितारामपेठ नियतक्षेत्र के कक्ष क्रमांक 956 तेंदूपत्ता संकलन करने गई 65 वर्षीय महिला पर घात लगाए बैठे बाघ ने हमला कर अपना शिकार बना लिया। मृत महिला का नाम जाईबाई महादेव जेंगठे है। मौके पर बाघ की पहचान करने के लिए ट्रैप कैमरा  वनविभाग ने लगाया है। एसटीपीएफ व आरआरटी के कर्मचारी की गश्त बढ़ा दी गई है। 
गड़चिरोली के आरमोरी शहर से सटे डंपिंग यार्ड के पास  किसान नंदू गोपाला मेश्राम (50)  पर नरभक्षी सीटी-1 बाघ ने हमला कर दिया, जिसमें उसकी मौत हो गई।  बता दें कि गड़चिरोली जिले के  देसाईगंज वनक्षेत्र से आरमोरी तहसील की ओर पहुंचे नरभक्षी सीटी-1 बाघ के हमले का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। शुक्रवार को तहसील के अरसोड़ा निवासी नलु जांगडे पर जानलेवा हमला बोलने के बाद इसी बाघ ने शनिवार की सुबह बाघ ने किसान नंदू पर हमला कर दिया, जिसमें उसकी मौत हो गई।   
इस समय विधायक कृष्णा गजबे ने बाघ का तत्काल बंदोबस्त न करें अन्यथा तीव्र आंदोलन छेड़ने की चेतावनी दी है। वहीं इन घटनाओं से संतप्त शिवसेना के पदाधिकारियों ने शनिवार को आरमोरी स्थित वन परिक्षेत्र अधिकारी कार्यालय समेत देसाईगंज के उपवनसंरक्षक कार्यालय पहुंचकर वनाधिकारियों का घेराव किया। बाघ का यथाशीघ्र बंदोबस्त न करने पर वनविभाग के कार्यालय को ताला जड़ने की चेतावनी भी दी।  बता दें कि सीटी-1 बाघ को पकड़ने के लिए 6 मई से देसाईगंज वनविभाग के वनक्षेत्र में पहुंची ताड़ोबा की 9 सदस्यीय शॉर्प शूटर्स टीम को अब तक सफलता नहीं मिल पायी है।  

खबरें और भी हैं...