दैनिक भास्कर हिंदी: कट्टरवादी संगठनों पर पाबंदी के लिए कर्नाटक पहुंच गए विखे पाटील

August 25th, 2018

डिजिटल डेस्क, मुंबई। विधानसभा में विपक्ष के नेता राधाकृष्ण विखे पाटील ने कर्नाटक के उपमुख्यमंत्री व गृहमंत्री जी. परमेश्वर से शुक्रवार को मुलाकात की। कर्नाटक विधानभवन में विखे पाटील ने परमेश्वर से एम.एम. कलबुर्गी सहित अन्य विचारकों के हत्या मामले में कट्टरवादी संगठनों की भूमिका और संबंधित संगठनों पर पाबंदी लगाने के बारे में चर्चा की।

बेंगलुरु में हुई बैठक के बाद विखे पाटील ने बताया कि कर्नाटक की जांच एजेंसियों ने पत्रकार गौरी लंकेश और लेखक व विचारक एम.एम. कलबुर्गी हत्या मामले की ठोस जांच की है। इस जांच में महाराष्ट्र और कर्नाटक राज्य के कट्टरवादी संगठनों के हिंसात्मक काम में शामिल होने के सबूत मिले हैं। उपमुख्यमंत्री परमेश्वर से हुई चर्चा के दौरान यह साफ समझ आया कि कर्नाटक सरकार आगामी समय में कट्टरवादी संगठनों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करेगी। विखे पाटील ने कहा कि कर्नाटक एसआईटी ने कट्टरवादी संगठनों के खिलाफ हिंसक घटनाओं की काफी जानकारी जुटाई है।

उसी के आधार पर महाराष्ट्र सरकार को एटीएस के माध्यम से छापामार कार्रवाई करने पर मजबूर होना पड़ा। विखे पाटील ने कहा कि सनातन संस्था पर पाबंदी लगाने की बात पर प्रदेश के गृह राज्य मंत्री दीपक केसरकर ने यू-टर्न ले लिया है। इससे राज्य सरकार की उदासीन मानसिकता साफ नजर आती है। 

 

खबरें और भी हैं...