दैनिक भास्कर हिंदी: नक्सली हिंसा को रोकने में महाराष्ट्र पुलिस करेगी पूरा सहयोग : डी. कनकरत्नम

October 25th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर। छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश ओर तेलंगाना राज्य में होने वाले विधानसभा चुनाव शांतिपूर्वक संपन्न होने के लिए महाराष्ट्र राज्य की सीमा पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। उसी तरह से नक्सली हिंसा को रोकने के लिए महाराष्ट्र पुलिस की ओर से तीनों राज्यों को पूरी तरह से सहयोग किया जाएगा। यह बात महाराष्ट्र राज्य सुरक्षा महामंडल के पुलिस महासंचालक व प्रबंध संचालक डी. कनकरत्नम ने सुराबर्डी स्थित नक्सल विरोधी अभियान महाराष्ट्र राज्य नागपुर में पड़ोसी राज्यों के आला पुलिस अफसरों के बीच अंतरराज्यीय समन्वय बैठक में कही। 

उन्होंने कहा कि तीनों राज्यों में नवंबर माह में विधानसभा चुनाव होने जा रहे हैं। इसके पहले पुलिस विभाग की पूर्व तैयारी शुरू होने वाली है। इस दौरान कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर मंथन किया गया। इस अवसर पर मध्यप्रदेश राज्य के पुलिस महासंचालक वी. के. सिंह, राज्य के विशेष दल के अतिरिक्त पुलिस महासंचालक संजय सक्सेना, पुलिस आयुक्त डा. भूषणकुमार उपाध्याय, नक्सल विरोधी अभियान के विशेष पुलिस महानिरीक्षक शरद शेलार, गड़चिरोली परिक्षेत्र के पुलिस उपमहानिरीक्षक अंकुश शिंदे व अन्य प्रमुखता से उपस्थित थे।

बैठक में नक्सली हिंसा का जवाब देने के लिए पुलिस की कार्रवाई के विविध उपायों, आपस में जानकारियों का आदान-प्रदान, उसी तरह विविध विषयों पर विस्तारपूर्वक चर्चा की गई। छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश और तेलंगाना राज्य में चुनाव की तिथि व विविध कार्यक्रम जाहिर कर दिए गए हैं। इस चुनाव के दौरान सभी राज्यों की पुलिस एक दूसरे के साथ समन्वय बनाकर चुनाव शांतिपूर्वक संपन्न कराने के लिए समन्वय बैठक ली गई। बैठक में बालाघाट के केंद्रीय आरक्षी पुलिस दल के विशेष पुलिस महानिरीक्षक टी शेखर, ग्रेहाउंड के विशेष पुलिस महानिरीक्षक श्रीनिवासन रेड्डी, जबलपुर के विशेष पुलिस महानिरीक्षक अनंतकुमार सिंह, बीएसएफ के विशेष पुलिस महानिरीक्षक जे बी संगवान, बालाघाट के विशेष पुलिस महानिरीक्षक के. पी. वेंकटेश्वरराव, पुलिस उपमहानिरीक्षक इरशाद अली, छत्तीसगढ़ के पुलिस उपमहानिरीक्षक सुंदरराज पी., गड़चिरोली के पुलिस अधीक्षक शैलेश बलकवडे, गोंदिया के पुलिस अधीक्षक हरीश बैजल के अलावा तीनों राज्यों के पुलिस अधीक्षक उपस्थित थे। 

खबरें और भी हैं...