दैनिक भास्कर हिंदी: सायरन बजाते हुए निकली एम्बुलेंस, ट्रैफिक पुलिस ने देखा तो अंदर थी सवारियां

October 14th, 2018

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  शहर में सायरन बजाती निकल रही एम्बुलेंस में जब ट्रैफिक पुलिस ने झांककर देखा तो उसमें मरीज की बजाए सवारियां बैठी हुई थी। जिससे मध्यप्रदेश से नागपुर आने वाली एम्बुलेंस में मरीज के बजाय सवारियों को ढोने का काम शुरू करने की बात सामने आ रही  है। रविवार को नागपुर से सिवनी जा रही एम्बुलेंस में सवारियों को लेकर जा रही एम्बुलेंस को यातायात पुलिस ने कामठी रोड पर मारुति शोरुम चौक में सायरन बजाते हुए और मोबाइल पर संभाषण करते हुए जा रहे एम्बुलेंस चालक को रोका। एम्बुलेंस में 7 सवारियों को बैठाया गया था। इन सवारियों को नागपुर से सिवनी लेकर जाने के लिए एम्बुलेंस चालक हेमराज कल्लू चौधरी झलोन मध्यप्रदेश निवासी ने 200 से 250 रुपए किराया लिया था।

नागपुर में यातायात पुलिस विभाग की यह दूसरी कार्रवाई है। इसके पहले भी यातायात पुलिस विभाग में दो सप्ताह पहले कडबी चौक से इंदोरा की ओर जाने वाली एम्बुलेंस के खिलाफ कार्रवाई की थी। पुलिस सूत्रों के अनुसार शहर में बिना हेलमेट के सुबह दोपहिया वाहन चलाने वालों के खिलाफ विशेष अभियान शुरू किया है। इंदोरा यातायात परिमंडल के यशोधरा बीट में मारुति शोरुम चौक में रविवार को सुबह करीब 7 बजे से यातायात पुलिस विभाग के अधिकारियों- कर्मचारियों ने यह अभियान शुरू कर रखा था। इस दौरान बिना हेलमेट के दोपहिया वाहन चलाने वालों के खिलाफ यातायात पुलिस विभाग कार्रवाई कर रहा था। कार्रवाई समापन की ओर थी। इस दौरान सुबह करीब 10.15 बजे मारुति शोरुम चौक से एम्बुलेंस क्रमांक एमपी 20 टी- 7310 का चालक हेमराज चौधरी सायरन बजाते हुए निकला।

पुलिस को एम्बुलेंस में मरीज नहीं दिखाई दिया। उसमें कई लोग बैठे थे। एम्बुलेंस चालक मोबाइल पर भी संभाषण कर रहा था। पुलिस ने उसे रोकने के बाद एम्बुलेंस में बैठे 7 लोगों से पूछताछ किया तो पता चला कि वह लोग नागपुर से सिवनी और सफतारा जा रहे हैं। एम्बुलेंस चालक ने उनमें से किसी से 200 और किसी से 250 रुपए किराया लेकर उन्हें गंतव्य स्थान तक छोडने का वादा किया है। पुलिस ने एम्बुलेंस में अवैध सवारी ढोने के मामले में उसे जब्त कर लिया है।  

खबरें और भी हैं...