दैनिक भास्कर हिंदी: राजनीतिक दल में खुले मन से बोलने वालों के लिए भी जगह होना चाहिए : गडकरी

February 7th, 2019

डिजिटल डेस्क, नागपुर। संगठन कार्यकर्ताओं के असंतोष को प्राकृतिक ठहराते हुए भूतल परिवहन मंत्री नितीन गडकरी ने कहा है कि राजनीतिक दल में खुले मन से बोलने वालों के लिए भी जगह होना चाहिए। उन्होंने कहा कि कई बार योग्य व निष्ठावान कार्यकर्ता के साथ अन्याय हो ही जाता है। उनकी मन स्थिति को जानना जरुरी है। विशेषकर चुनाव के समय कार्यकर्ता की मन की स्थिति जानने समझने से संगठन काे अधिक लाभ होगा। चुनाव कार्य में संगठन कार्यकर्ता की भूमिका पर प्रकाश डालते हुए गडकरी  ने कहा कि कार्यकर्ता को संयमी होना चाहिए। विवाह के समय वधु पक्ष याचक की भूमिका में रहते हैं। चुनाव के समय संगठन कार्यकर्ता को भी उसी तरह ही भूमिका में रहना होगा। गुरुवार को सुरेश भट सभागृह रेशमबाग के भाजपा का शक्ति केंद्र कार्यकर्ता सम्मेलन हुआ।

कार्यकर्ताओं की भावनाओं को समझना जरूरी

नागपुर, रामटेक व भंडारा लोकसभा क्षेत्र के कार्यकर्ताओं के इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने किया। समापन भूतल परिवहन मंत्री गडकरी की उपस्थिति में हुआ। श्री गडकरी ने साफ तौर पर कहा कि राजनीति में स्पर्धक होना नई बात नहीं है। ईर्ष्या,साजिश,शिकायत का दौर चलते रहता है। बड़े पद पाने की होड़ लगी रहती है। विधायक मंत्री व मंत्री मुख्यमंत्री बनना चाहता है। यह स्पर्धा होना भी चाहिए, लेकिन कार्यकर्ताओं को समझना होगा कि कई बार रणनीतिक निर्णय लेते समय योग्य कार्यकर्ता को न्याय नहीं मिल पाता है।

बाहर के कार्यकर्ताओं को पद या पार्टी टिकट दे दी जाती है। अपेक्षानुरुप निर्णय नहीं होने की स्थिति में कार्यकर्ता का व्यवहार उसकी संयमता व सूझबूझ का परिचय देता है। पार्टी व नेताओं की भी जिम्मेदारी बनती है कि सही कार्यकर्ता की भावना का ध्यान रखें। नागपुर में संगठन कार्य का अनुभव सुनाते हुए श्री गडकरी ने कहा कि लंबे समय तक निष्ठा के साथ काम करने पर भी उचित सम्मान नहीं मिल पाने की स्थिति में कार्यकर्ता रोष जताने लगते हैं। ऐसे में नेताओं की जिम्मेदारी बनती है कि योग्य कार्यकर्ता के रोष को समझे। संगठन में खुले मन से बात रखने वालों का स्थान हो। पालकमंत्री चंद्रशेखर बावनकुले, सामाजिक न्यायमंत्री राजकुमार बडोले, महापौर नंदा जिचकार सहित पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता व विधायक मंच पर थे।