दैनिक भास्कर हिंदी: डम्पर ने बाइक सवारों को कुचला, दोनों की घटना स्थल पर मौत

May 18th, 2018

डिजिटल डेस्क करेली । करेली-गाडरवारा मार्ग पर ग्राम करपगांव के नजदीक एक डम्पर ने बाईक सवार दो युवकों को कुचल दिया जिससे उनकी घटना स्थल पर ही मौत हो गई। घटना के बाद डम्पर चालक वाहन लेकर फरार हो गया। घटना स्थल पर मौजूद लोगों के बताये अनुसार करेली की ओर से आ रहे डम्पर ने बाइक को सीधी टक्कर मार दी जिससे उसमें सवार दोनों लोग डम्पर की चपेट आ गए।

डम्पर नरसिंहपुर की ओर जा रहा था जबकि बाइक सवार विपरीत दिशा से आ रहे थे । प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार डम्पर काफी तेज गति पर था बाइक सवार संभल पाते इसके पूर्व ही डम्पर ने उन्हें कुचल दिया । घटना की सूचना तुरंत ही करेली थाने दी गई जिसके बाद घटना स्थल पर करेली पुलिस और डॉयल 100 पहुंची। घटना गुरुवार को दोपहर करीब 3 बजे की बताई जा रही है। मृतकों की शिनाख्त तुलाराम पिता बालचंद्र चौधरी उम्र 50 वर्ष और छोटेलाल जाटव उम्र 50 वर्ष दोनों निवासी ग्राम सिहोर के रुप में हुई है। पुलिस के बतायेनुसार डम्फर की चपेट में आने से दुर्घटना हुई है। मर्ग कायम कर जांच विवेचना में ली है। पंचनामा के बाद शवों का पोस्टमार्टम कराकर अंतिम संस्कार के लिए परिजनों को सौंप दिये हैं।

ऑटो पलटने से 6 लोग घायल, 4 गंभीर- ग्राम रांकाई और रातीकरार के बीच एक ऑटो पलट जाने से उसमे सवार 6 लोग घायल हो गए जिसमे से 4 लोगो को गम्भीर हालत में नरसिंहपुर जिला अस्पताल रिफर  किया गया। शाम करीब साढे 6 बजे रांकई की ओर से जा रहे ऑटो  रातिकरार  के नजदीक ट्रैक्टर से क्रासिंग के समय सड़क से नीचे खाई में पलट गया राहगीरों ने तुरन्त ही घायलो को बाहर निकाला और  डायल 100 को सूचना  दी  तब जाकर  घायलो को  करेली अस्पताल उपचार के लिए लाया गया ।

अस्पताल से प्राप्त जानकारी अनुसार कुरेशा बी पति शेख ज़हूर खान 62 वर्ष निवासी रातीकरार, शेख ज़हूर पिता शेख मोहम्मद 65 वर्ष निवासी रातीकरार, अफ़साना बी पति नशीर खान 40 वर्ष निवासी टाडा केसली, रुकसाना बी पति बशीर खान  निवासी टाडा केसली  को गंभीर हालत में जिला अस्पताल भेजा है, वहीँ घटना में अन्य  घायलो में ममता पति सुम्मा बंशकार 40 वर्ष निवासी रातीकरार और सुरेश पिता बाबूलाल बंशकार 18 वर्ष निवासी रातीकरार का उपचार करेली अस्पताल में ही चल रहा है। पुलिस ने मामला कायम कर जाँच विवेचना में लिया है घायलो ने ओवर लोड ऑटो और सामने से आ रहे रेत से भरे ट्रैक्टर की गति को भी जिम्मेदार बताया है।