गैंगवार की आशंका: वर्चस्व की लड़ाई में दो गुट आपस में भिड़े, छह घायल

November 25th, 2021

डिजिटल डेस्क, नागपुर।  वर्चस्व को लेकर दो गुटों में  सशस्त्र टकराव हुआ। दो भाइयों सहित पांच से छह लोग घायल हो गए। जिसमें से एक युवक को जान से मारने का प्रयास हुआ। इससे परिसर में गैंगवार होने की आशंका है। घटित प्रकरण से   न्यू.कैलाश नगर में तनाव का माहौल बना रहा। इस बीच आरोप-प्रत्यारोप के चलते दोनों गुटों के खिलाफ अजनी थाने में प्रकरण दर्ज किया गया है। प्रकरण में नाबालिगों की भी लिप्तता है।जख्मियों में दोनों गुटों के शैलेश उर्फ भुरया सुधाकर काले (21) उसका भाई अविनाश काले (23) न्यू.कैलास नगर, अपूर्व कांबले (20) हुड़केश्वर, जितेंद्र तुलसीराम बिसेन (20), अंकित, अमित आदि घायल है। यह लोग दोनों गुटों के हैं और आपराधिक गतिविधियों में लिप्त हैं। मंगलवार की रात घूर कर देखने की बात को लेकर शैलेश के मित्र अजय बागेश्वर और अपूर्व कांबले के बीच विवाद हो गया। शैलेश ने मध्यस्थता कर प्रकरण सुलझाने का प्रयास किया।

परिसर में बना रहा तनाव का माहौल
रात करीब साढ़े 11 बजे शैलेश मित्र रितेश हाडके (25) जुना बाबूलखेड़ा निवासी के साथ घर में भोजन कर रहा था, तभी अपूर्व ने अपने साथी जितेंद्र बिसेन (23), मोनू भुरे (20) और अन्य दो नाबालिगों की मदद से चाकू और रॉड से शैलेश पर हमला बोल दिया। मौका मिलते ही शैलेश ने वहां से जान बचाकर भागने का प्रयास किया, लेकिन जितेंद्र ने उसे पकड़कर पेट में चाकू घोंप दिया। यह देखकर शैलेश का भाई अविनाश और मित्र बीच बचाव करने दौड़े, तो उन पर भी वार किए गए, जबकि दूसरे गुट के जितेंद्र बिसेन द्वारा दर्ज की गई शिकायत में कहा गया है कि रात में पौने बारह बजे के दौरान शैलेष ने ही अपने भाई अविनाश मित्र अजय बागेश्वर की मदद से अपूर्व पर हमला किया। उसे जान से मारने का प्रयास किया। बीच बचाव करने दौड़े अंकित और अमित पर भी वार किया। घटित प्रकरण से कुछ समय के लिए परिसर में तनाव का माहौल रहा। इस बीच दोनों गुटों के खिलाफ प्रकरण दर्ज किया गया है। प्रकरण में लिप्त दोनों गुटों के सात लोगों को पकड़ा गया है। जिसमें नाबालिगों की भी लिप्तता है।