comScore

फडणवीस बोले- जब मैं मुख्यमंत्री था, तब उद्धव ने वाजे की दोबारा बहाली के लिए फोन किया था

फडणवीस बोले- जब मैं मुख्यमंत्री था, तब उद्धव ने वाजे की दोबारा बहाली के लिए फोन किया था

डिजिटल डेस्क, मुंबई। महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने पुलिस अफसर सचिन वाजे की गिरफ्तारी से जुड़े मामले में बुधवार को बड़े खुलासे किए। उन्होंने कहा कि, 2018 में जब मैं मुख्यमंत्री था, तब उद्धव ठाकरे ने सचिन वाजे को नौकरी में वापस लेने के लिए फोन किया था।

फडणवीस ने बीजेपी मुख्यालय पर प्रेस कांफ्रेंस कर कहा, मुंबई में एंटीलिया के सामने जिलेटिन स्टिक से भरी एक कार पाई गई, उसके बाद जो घटनाएं घटी वो आप सभी के सामने हैं। जिस प्रकार से पुलिस महकमे से इस प्रकार की गाड़ी प्लांट की जाती हैं और उसके बाद की घटनाओं में इसमें सबसे बड़ी कड़ी मनसुख हिरेन का जिस प्रकार से मर्डर किया जाता है, ये सभी चीजें मुंबई और महाराष्ट्र के इतिहास में इससे पहले कभी नहीं हुई। उन्होंने कहा कि अगर रक्षा करने वाले इस प्रकार से अपराधी तत्व बन जाएं, तो सुरक्षा कौन करेगा ये सवाल है?

फडणवीस ने कहा, 2018 में जिस समय मैं मुख्यमंत्री था उस समय शिवसेना की ओर से दबाव था कि एपीआई सचिन वाजे को फिर एक बार सरकार की सेवा में लिया जाए। सचिन वाजे के इतने खराब रिकॉर्ड के बाद भी शिवसेना ने ऐसे समय इनको वापस लिया और वापस लेने के बाद इनको मुंबई क्राइम ब्रांच की सबसे महत्वपूर्ण यूनिट क्राइम इंटेलिजेंस यूनिट का प्रमुख बनाया।

फडणवीस ने कहा कि सचिन वाजे को ऑपरेट करने सरकार में बैठे उनके आका कौन हैं, उसे ढूंढ कर निकालना होगा। एंटीलिया के पास जिलेटिन रखने का मकसद और मंशा जाननी चाहिए। कोई खास संदेश देने के लिए ऐसा किया गया।

कमेंट करें
EZtMH