दैनिक भास्कर हिंदी: दर्दनाक सड़क हादसा: बेलगाम स्कार्पियो ने महिलाओं को रौंदा, दो की मौत

April 11th, 2019

डिजिटल डेस्क,शहडोल। तेज रफ्तार स्कार्पियो वाहन ने सड़क किनारे चाय पी रहीं दो महिलाओं को मौत की नींद सुला दिया। यह दर्दनाक हादसा बुधवार की दोपहर करीब 12 बजे सोहागपुर थानांतर्गत नेशनल हाइवे क्रमांक 43 में ग्राम जमुआ के पास कार शो रूम के सामने हुआ। जिसमें दोनों महिलाओं की मौत हो गई। वहीं वाहन में सवार दो लोगों समेत चार लोग घायल हो गए। सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस व एम्बुलेंस वाहन ने घायलों को जिला चिकित्सालय में भर्ती कराया। हादसे के बाद वाहन चालक फरार हो गया।

तेज रफ्तार के कारण हुआ हादसा
प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार शो रूम के सामने स्थित गुमटी में कई लोग खड़े थे। वहीं पर लालपुर से आईं रानी बैगा, छाया बैगा व विकास बैगा आटो से उतरने के बाद चाय पी रहे थे। उसी समय बुढ़ार की ओर से स्कार्पियो वाहन क्रमांक एमपी एमपी 53 बीसी 1200 तेज गति से लहराते हुए आई और रानी, छाया व विकास को चपेट में लेते हुए सड़क किनारे खड़े दो बाइक क्रमांक एमपी 18 एमओ 7193 तथा एमपी 18 एमएम 0944 को रौंदते हुए सड़क से दूर खेत में जा घुसी।
 

मौके पर ही दो की मौत

वाहन की रफ्तार इतनी अधिक थी कि एक महिला वाहन के साथ करीब 500 मीटर दूर तक घिसटती चली गई। जिससे उसकी वहीं मौत हो गई। वहीं दूसरी महिला भी चपेट में आकर मृत हो गई। इसके अलावा विकास बैगा को गंभीर चोट आई। जबकि वाहन में सवार संत बहादुर सिंह व सड़क किनारे खड़े एक अन्य युवक को चोट आई। वाहन की तीब्रता का अंदाजा इससे भी लगाया जा सकता है कि दोनों बाइकें बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गईं। वह तो गनीमत रही कि और लोगों ने यहां वहां भागकर अपनी जान बचाई वरना और हादसे का रूप और बड़ा हो सकता था। साथ ही ठोकर मारने के बाद स्कार्पियो पेड़ से टकराने से बच गई, यदि ऐसा होता तो वाहन में सवार भी शिकार हो सकते थे।
 

अमरकंटक से लौट रहे थे लोग

दुर्घटनाग्रस्त वाहन सीधी जिले के संत बहादुर सिंह के नाम पर है। हादसे के वक्त वे स्वयं भी वाहन में मौजूद थे, जो घायल हुए। जानकारी के अनुसार चालक वीरेश सिंह को झपकी आने की वजह से वाहन अनियंत्रित होकर हादसे का शिकार हुआ। संत बहादुर सिंह व अपने साथी के साथ अमरकंटक गए हुए थे। एक दिन पहले वहां पहुंचने के बाद आज सुबह सीधी लौट रहे थे। चालक को सोने का समय का नहीं मिला और नींद के कारण उसे झपकी आ गई। एसआई विकास सिंह ने बताया कि चालक फरार है, जिसकी तलाश की जा रही है।

श्रमिकों को ले जा वाहन पलटा, चार घायल

एसईसीएल जमुना कोतमा क्षेत्र के आमांडाड ओसीएम में कार्यरत श्रमिकों को ले जा रहा कालरी वाहन पलटने से उसमें सवार 4 श्रमिक घायल हो गए। बुधवार की सुबह लगभग 9.30 बजे कर्मचारी कालरी कैंपस में ही वाहन क्रमांक एमपी 18 - 6805 से जा रहे थे। कुछ दूर पर ढलान में वाहन अनियंत्रित होकर पलट गया। वाहन को फिटर राकेश सिंह चला रहा था, जबकि उसका मूल पद ऑटो फिटर का है। घटना के बाद कालरी के कर्मचारियों द्वारा घायल श्रमिकों दिनेश काछी 53 वर्ष, सच्चिदानंद 54 वर्ष, राकेश सिंह 50 वर्ष तथा एसके तिवारी 55 वर्ष को भालूमाड़ा क्षेत्रीय चिकित्सालय लाया गया। सच्चिदानंद के हाथ में फैक्चर एवम सीने में अंदरूनी चोट होने के कारण बिलासपुर अपोलो रेफर किया गया, वहीं राकेश सिंह को सर में अंदरूनी चोट लगी है। बाकी को मामूली चोट आई।