comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

वैक्सीन की कमी पर बोले डॉ हर्षवर्धन- अपनी नाकामी छिपा रही हैं पंजाब, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ की सरकारें

वैक्सीन की कमी पर बोले डॉ हर्षवर्धन- अपनी नाकामी छिपा रही हैं पंजाब, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ की सरकारें

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने वैक्सीन की कमी को लेकर महाराष्ट्र, पंजाब, दिल्ली और छत्तीसगढ़ की सरकारों पर निशाना साधा है। मंत्री हर्षवर्धन ने कहा, वैक्सीनेशन कराने के मामले में महाराष्ट्र, पंजाब, दिल्ली और महाराष्ट्र की सरकारें फेल दिख रही हैं। अपनी नाकामी छिपाने के लिए केन्द्र पर आरोप लगाने का काम कर रही हैं। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे के आरोपों का जवाब देते हुए डॉ हर्षवर्धन ने कहा, देश में कहीं भी वैक्सीन की कोई कमी नहीं है। महाराष्ट्र सरकार बार-बार अपनी गलतियों को दोहरा रही है।

केन्द्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने कहा, आज महाराष्ट्र की जो स्थिति है उसके लिए वहां की सरकार ही जिम्मेदार है। अपनी नाकामी को छिपाने की जगह हम पर आरोप लगाए जा रहे हैं। जो लोग राज्य में वैक्सीन की कमी का बोल रहे हैं। वे लोगों का डराने का काम कर रहे हैं। ये सब राजनीतिक रूप से किया जा रहा है। ऐसा नहीं होना चाहिए। 

वहीं, डॉ हर्षवर्धन ने छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव को भी घेरा है। उन्होंने कहा कि राज्य में भारत बॉयोटेक की कोवैक्सिन लोगों को लगवाने से मना कर दिया है। इससे कोरोना के खिलाफ जंग कमजोर हो गई है। पंजाब और दिल्ली सरकारे भी वैक्सीनेशन को लेकर झूठ बोल रही हैं। देश में पर्याप्त डोज है। कहीं भी इसकी कमी नहीं है। 

केन्द्रीय मंत्री हर्षवर्धन के मुताबिक, महाराष्ट्र सरकार ने केवल 86% हेल्थ वर्कर्स को कोरोना वैक्सीन की पहली डोज दी। दिल्ली में में 72% और पंजाब में केवल 64% स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगाई गई। दूसरी ओर 10 अन्य राज्य और केंद्र शासित राज्यों में 90% से ज्यादा स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है।

कमेंट करें
zuVbg