comScore

© Copyright 2019-20 : Bhaskarhindi.com. All Rights Reserved.

केंद्रीय मंत्री थावर चंद गहलोत की बेटी का हार्ट अटैक से निधन, इंदौर के मेदांता अस्पताल में कोरोना का चल रहा था इलाज

केंद्रीय मंत्री थावर चंद गहलोत की बेटी का हार्ट अटैक से निधन, इंदौर के मेदांता अस्पताल में कोरोना का चल रहा था इलाज

डिजिटल डेस्क, इंदौर। भारत सरकार में सामाजिक न्याय और सशक्तिकरण मंत्री थावर चंद गहलोत की बेटी योगिता सोलंकी का सोमवार को हार्ट अटैक से निधन हो गया। 43 साल की योगिता का इंदौर के मेदांता अस्पताल में पिछले करीब 15 दिनों से कोरोना का इलाज चल रहा था। डॉक्टरों के अनुसार, योगिता को ब्लड क्लॉट हो गया था जो पैरालिटिक अटैक का कारण बना।

मंत्री ने एक सहयोगी ने कहा, 'योगिता की आरटी-पीसीआर टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव थी, लेकिन लक्षण थे। जब उनका एचआर-सीटी स्कैन करवाया गया, तो उनके फेफड़े 90% तक डैमेज हो चुके थे। शुरुआत में, योगिता को उज्जैन के एक अस्पताल में ले जाया गया था, क्योंकि उनका परिवार वहां है। लेकिन उसकी हालत बिगड़ने पर, उन्हें इंदौर ले जाया गया। योगिता के दो बच्चे हैं। 23 साल की बेटी और 20 साल का बेटा।

बता दें कि मध्यप्रदेश में बीते 24 घंटों में कोरोना के 12,662 नए मामले सामने आए हैं। इसी के साथ कुल मामलों की संख्या बढ़कर 5,88,368 हो गई है। वहीं प्रदेश में ठीक होने वालों की संख्या भी बढ़ रही है। 5 दिन में रिकवरी रेट 2% बढ़ा है। प्रदेश के चारों बड़े शहरों की स्थिति भी ठीक है। यहां मरीज तेजी से रिकवर हो रहे हैं। ठीक होने वालों का आंकड़ा नए संक्रमितों से ज्यादा है।

प्रदेश में 28 अप्रैल को रिकवरी रेट 82% से थोड़ा कम था, जबकि संक्रमण दर 21% से ज्यादा थी। 2 मई को रिकवरी रेट 84% पर पहुंचा गया। नए केस में भी कमी आ रही है। वहीं इंदौर की बात करें तो यहां रोजाना 18,00 से ज्यादा मरीज आ रहे थे, लेकिन 24 घंटे में यह संख्या घटकर 1,787 हो गई। एक दिन पहले 1,821 नए मरीजों की पहचान हुई थी। संक्रमण दर भी 1% घटकर 17% हो गई है। 2,161 मरीज ठीक भी हुए हैं। 

कमेंट करें
MXQ25