दैनिक भास्कर हिंदी: यूनिवर्सिटी : कुलगुरु नियुक्ति प्रक्रिया की आवेदन अवधि नहीं बढ़ेगी

May 26th, 2020

डिजिटल डेस्क, नागपुर। लॉकडाउन के बीच राष्ट्रसंत तुकड़ोजी महाराज नागपुर विश्वविद्यालय के कुलगुरु पद के लिए यूनिवर्सिटी प्रशासन ने ऑनलाइन आवेदन मंगवाए हैं। इनमें ई-मेल पर कुल 131 उम्मीदवारों ने आवेदन किया है। इनको लॉकडाउन खुलने के बाद आवेदन की हार्ड कॉपी यूनिवर्सिटी में जमा कराने को कहा गया था, लेकिन लॉकडाउन लंबा खींच जाने से हार्ड कॉपी जमा नहीं हो पाई है। ऐसे में कुलगुरु पद की नियुक्ति प्रक्रिया और टलने के आसार बन रहे हैं। 

यूनिवर्सिटी ने नियुक्ति के लिए 19 मार्च को विज्ञापन जारी कर 20 अप्रैल तक आवेदन मंगाए थे। तब यूनिवर्सिटी ने स्पष्ट किया था कि उम्मीदवार अपने आवेदन ई-मेल के जरिए नोडल ऑफिसर डॉ. आर. प्रेमकुमार को भेज सकते हैं। यूनिवर्सिटी को मिले उम्मीदवारों में कई विश्वविद्यालयों के कुलगुरु, पूर्व कुलगुरु, नागपुर यूनिवर्सिटी के कई प्रोफेसर शामिल हैं। इसमें डॉ. विनायक देशपांडे, डॉ. के. सी. देशमुख, डॉ. राजू मानकर, डॉ. जी. एस. खडेकर, डॉ. कुंडल, डॉ. ज्योत्सना मेश्राम, डॉ. अनंत देशमुख जैसे नाम शामिल हैं। यूनिवर्सिटी को हार्ड कॉपी मिलने के बाद आवेदन पड़ताल समिति आवेदनों का सत्यापन करेगी। पात्र उम्मीदवारों को साक्षात्कार के लिए बुलाया जाएगा। 

करना होगा इंतजार
नागपुर यूनिवर्सिटी के कुलगुरु डॉ. सिद्धार्थ विनायक काणे 7 मार्च को सेवानिवृत्त हो गए हैं। उनके बाद अमरावती यूनिवर्सिटी के कुलगुरु डॉ. मुरलीधर चांदेकर को नागपुर का अतिरिक्त प्रभार दिया गया है।  नियुक्ति के लिए राज्य सरकार ने सर्च कमेटी गठित की है, जिसमें सेवानिवृत्त न्या. दिलीप भोंसले अध्यक्ष और सचिव के रूप में प्रधान सचिव संजय चहांदे शामिल हैं। आईआईटी पवई कुलसचिव डॉ. प्रेमकुमार नोडल ऑफिसर हैं। समिति को आवेदन मिलने के बाद उनकी पड़ताल, उम्मीदवारों की लिस्टिंग से लेकर साक्षात्कार जैसी प्रक्रिया पूरी करने में कई महीने लगेंगे। नागपुर यूनिवर्सिटी ने बीते दिनों चयन समिति में अपने प्रतिनिधि के तौर पर आईआईटी कानपुर के निदेशक प्रोफेसर अभय करंदीकर का चयन किया है।

खबरें और भी हैं...