comScore

डॉक्टर्स को होटल से हटाने की कोशिश पर हंगामा

डॉक्टर्स को होटल से हटाने की कोशिश पर हंगामा

डिजिटल डेस्क जबलपुर । 15 दिन तक कोरोना मरीजों की देखभाल-इलाज करने वाले डॉक्टर्स को 14 दिन के लिए क्वारंटीन रहने का नियम है, इसके लिए प्रशासन ने होटलों का प्रबंध किया है। 1 से 15 मई तक कोविड-19 सुपर स्पेशिएलिटी हॉस्पिटल और आइसोलेशन वॉर्ड में ड्यूटी करने वाले कंसलटेंट व डॉक्टर्स को जाबालि पैलेस में रुकवाया, उन्हें 29 मई तक यहाँ क्वारेंटाइन रहना था, लेकिन सोमवार को होटल प्रबंधन ने उन्हें कमरे खाली कर हॉस्टल या घर जाने के लिए कहा। इस बात पर डॉक्टर्स आक्रोशित हो गए, उनका कहना था कि यदि वे हॉस्टल या अपने घर जाते हैं तो सभी के लिए संक्रमण का खतरा होगा। 
इस संबंध में डीन डॉ. पीके कसार ने बताया कि गाँधी मेडिकल कालेज में नए नियम के तहत अब डॉक्टर्स को 7 दिन होम क्वारेंटाइन रहने के आदेश दिए गए हैं। संभवत: उसके कारण ही यह भ्रम हुआ है। यहाँ जो डॉक्टर होटलों में क्वारेंटाइन हैं उन्हें नहीं हटाया जा रहा, नए नियम को कब लागू करना है यह बाद में तय किया जाएगा। इस मामले को लेकर काफी देर तक गहमा गहमी की स्थिति बनी रही। 
 

कमेंट करें
0TRMf