दैनिक भास्कर हिंदी: बीते 7 दिन में उत्तर प्रदेश में कम हुए 60 हजार कोरोना केस, योगी सरकार ने 17 मई तक बढ़ाया लॉकडाउन

May 9th, 2021

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। कोरोना महामारी के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए यूपी सरकार ने आज लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा की है। बता दें इससे पहले भी यूपी सरकार ने दो-दो दिनों पर लॉकडाउन बढ़ा रही थी। आज (रविवार) सरकार ने 17 मई तक संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की है। यूपी में हफ्ते-भर के लॉकडाउन की वजह से एक्टिव मरीजों की संख्या में कमी आई है।

लॉकडाउन में इन्हें मिलेगी छूट

  • इस दौरान उन लोगों को छूट मिलेगी जो कंपनियों या फैक्ट्री में काम कर रहे है।
  • डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टाफ, व्यापारियों, मेडिकल शॉप से जुड़े लोगों को।
  • स्वास्थ्य से जुड़ी वस्तुओं के आवागमन में भी मिलेगी छूट।
  • ऑनलाइन पोर्टल से जरुरी सामान ऑर्डर करने वाले लोगों को डिलेवरी में छूट मिलेगी।
  • मेंडिकल इमरजेंसी, टेलीफोन सेवा, डाक सेवा, प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक, इंटरनेट मीडिया से जुड़े कर्मचारियों को ई-पास बनवाने की जरूरत नहीं है। वे अपने संस्थान का आई-कार्ड दिखाकर आ जा सकते है।

60 हजार तक कमी आई 
रविवार को इससे जुड़े आदेश जारी किए गए है। लॉकडाउन लगाने से यूपी में एक्टिव केसों में 60 हजार तक की कमी आई है। ऐसे में सरकार किसी भी तरह की छूट देकर संक्रमण को बढ़ावा नहीं देना चाहती। 

दहशत न फैले इसीलिए छोटे लॉकडाउन
यूपी सरकार इससे पहले भी छोटे-छोटे लॉकडाउन लगा रही थी ताकि लोगों में दहशत ना फैले लेकिन आज (रविवार) बढ़ते सक्रंमण को देखते हुए यूपी सरकार ने कर्फ्यू की समय-सीमा बढ़ाई है। इससे पहले 10 मई तक लॉकडाउन लगाया गया था।

यूपी के अलावा दिल्ली में भी लॉकडाउन
कोरोना मामले कम हो जाने के बावजूद दिल्ली में कोरोना मरीजों की हालत बेहतर नहीं है। दिल्ली सरकार ने सर्वेक्षण करवाया था, इस दौरान आमजनता और व्यापारियों ने इस बात पर अपनी सहमति देते हुए कहा कि राजधानी में लॉकडाउन लगा देना चाहिए। वैज्ञानिकों के मुताबिक दिल्ली में अभी संक्रमण दर में12 फीसदी की कम आई है। वहीं, अगर 15 मई तक लॉकडाउन लगाया जाए तो इसका दर 10 फीसदी पर पा जाएगा। यहीं वजह की दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन को बढ़ाकर 17 मई तक कर दिया है।  

 


 

खबरें और भी हैं...