comScore

सब्जी विक्रेता महिला और उसके नौकर को जान से मारने का प्रयास, आरोपी फरार

सब्जी विक्रेता महिला और उसके नौकर को जान से मारने का प्रयास, आरोपी फरार

डिजिटल डेस्क, नागपुर। भाई की हत्या का बदला लेने के लिए सब्जी विक्रेता महिला और उसके नौकर पर जानलेवा कर उन्हें जान से मारने का प्रयास िकया गया। घटना के बाद से आरोपी फरार हैं।  देर रात गणेशपेठ थाने में दो आरोपियों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया। 

नौकर पर रॉड से किया हमला
जख्मी अंकित उर्फ ए.वी. चंद्रभान बोकड़े (18), तांडापेठ निवासी और नई शुक्रवारी निवासी देविका ज्ञानेश्वर कलंबे (45) है। आरोपी सारंग उघड़े (20), रामाजीवाड़ी, गणेशपेठ और संकेत नाईक (21), कर्नलबाग निवासी है। देविका का सब्जी का कारोबार है। उसके लिए सब्जी बेचने का काम अंकित करता है। रविवार की करीब शाम 7 बजे देविका का मानस पुत्र राहुल गावरकर और अंकित सब्जी बेच रहे थे। 

महिला को नीचे गिराकर कोयते से वार किया
 उस समय मॉडल मिल चौक से रामकूलर चौक के बीच आरोपियों ने अंकित पर चाकू और लोहे की रॉड से हमला कर उसे जान से मारने का प्रयास किया। घटनास्थल के समीप खड़ी देविका, अंकित को बचाने के लिए दौड़ी, तो सारंग ने धक्का देकर देविका को नीचे गिरा दिया और उस पर कोयते से वार कर उसको भी जान से मारने का प्रयास किया। 

हत्यारोपी बेटा अभी भी जेल में
पुलिस के अनुसार अप्रैल 2020 में देविका के पुत्र आकाश उर्फ बंटी, अंकित और अन्य ने मिलकर सारंग के भाई शैलेश की हत्या कर दी थी। उस समय अंकित नाबालिग था। सुधारगृह से जल्दी छूट गया। देविका का पुत्र आकाश अभी भी जेल में है। सारंग ने भाई की हत्या का बदला लेने के लिए लंबे समय से फिराक में था। यह बात उसने अपने िमत्र आरोपी संकेत नाईक बताई थी। वह भी उसका साथ देने के लिए तैयार हो गया और घटना के दिन मौका मिलते ही अंकित और देविका पर हमला बोल दिया। दोनों आरोपी फरार हैं। प्रकरण दर्ज कर सरगर्मी से तलाश किया जा रहा है। 
 

कमेंट करें
T8Kxz