• Dainik Bhaskar Hindi
  • State
  • Video Viral Special DG Purushottam Sharma beat and abused his wife complaint Narottam Mishra Bhopal Madhya Pradesh

दैनिक भास्कर हिंदी: भोपाल: पत्नी को पीटने वाले DG रैंक के IPS अधिकारी को पद से हटाया गया, मामला राज्य महिला आयोग भी पहुंचा

September 28th, 2020

डिजिटल डेस्क, भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में डीजी रैंक के आईपीएस अधिकारी पुरुषोत्तम शर्मा को पत्नी को पीटना महंगा पड़ गया है। सोशल मीडिया पर पिटाई का मामला उजागर होने के बाद सरकार ने पुरुषोत्तम शर्मा को संचालक लोक अभियोजक संचालनालय के पद से हटा दिया है। 

दरअसल सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो में पुलिस महानिदेशक स्तर का अधिकारी अपनी पत्नी की पिटाई करता दिख रहा है। इस वीडियो में नजर आ रहा है कि, पुलिस अधिकारी पत्नी को जमीन पर गिरा देता है और उसकी बेरहमी से पिटाई कर रहा है। इस दौरान घर में मौजूद कर्मचारी बीच बचाव करने की कोशिश करते हैं। इस मामले को लेकर स्पेशल डीजी पुरुषोत्तम शर्मा के बेटे ने डीजीपी से शिकायत की है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा, पुरुषोत्तम शर्मा को कार्य मुक्त कर दिया गया है। जिम्मेदार पद पर बैठा हुआ कोई भी व्यक्ति अगर गैरकानूनी गतिविधियां करता है और कानून को अपने हाथ में लेता है तो वो कोई भी हो उसके खिलाफ कार्रवाई होगी।

राज्य महिला आयोग पहुंचा मामला
मारपीट का मामला राज्य महिला आयोग भी पहुंच गया है। उनकी पत्नी ने राज्य महिला आयोग में शिकायत की है, जल्द ही खुद पहुंचकर आयोग के समक्ष पेश होकर सुरक्षा की मांग करेंगी। खुद को पति से जान का खतरा बताया है। अब घरेलू हिंसा के मामले में शर्मा पर एफआईआर दर्ज हो सकती है। 

राज्य महिला आयोग ने लिया संज्ञान
राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष शोभा ओझा ने इस घटना की निंदा करते हुए कड़ी कार्रवाई करने का संकेत दिया है। ओझा ने सीएम शिवराज और गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा से इस मामले में कड़ी कार्रवाई की मांग की है। शोभा ओझा ने कहा, शिवराज सरकार में महिलाएं सुरक्षित नहीं है। जब डीजी की पत्नी नहीं है सुरक्षित तब प्रदेश की अन्य महिलाओं की स्थिति को लेकर सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है।

ये है पूरा मामला
बताया जा रहा है, पत्नी के साथ मारपीट का यह मामला स्पेशल डीजी शर्मा के कथित अफेयर का मामला सामने आने के बाद हुआ। शर्मा के बेटे ने डीजीपी से शिकायत की और वीडियो भी शेयर किया। आरोप है कि, पुरुषोत्तम शर्मा की पत्नी ने उन्हें दूसरी महिला के साथ आपत्तिजनक स्थिति में रंगे हाथों पकड़ लिया था। इसी को लेकर पुरुषोत्तम शर्मा और उनकी पत्नी के बीच बहस हुई और बात मारपीट तक पहुंच गई।

इस मामले को लेकर मिली जानकारी के मुताबिक, डीजी शर्मा अपनी किसी महिला मित्र के घर गए थे, जहां अचानक पहुंची उनकी पत्नी ने उन्हें रंगे हाथ पकड़ लिया। इसके बाद पत्नी दोपहर में जब घर पहुंची, तो शर्मा ने उनके साथ जमकर मारपीट की। उन्हें धमकाया कि वह उनके निजी मामले में बीच में ना आए। मारपीट का वीडियो उनके घर में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया।

मैं कानूनी कार्रवाई के लिए तैयार-  पुरुषोत्तम शर्मा
पुरुषोत्तम शर्मा ने भी वीडियो में खुद के होने की बात कबूल की है। उन्होंने कहा, मैं कानूनी कार्रवाई के लिए तैयार हूं। वहीं इस मामले में गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा का कहना है, मैंने इसके बारे में पढ़ा और देखा है, लेकिन अधिकारियों से बात करने के बाद ही कोई जवाब दूंगा। अगर कोई शिकायत है तो निश्चित रूप से कार्रवाई की जाएगी। 

आईपीएस अधिकारी पुरुषोत्तम शर्मा की सफाई
मारपीट का मामला मीडिया में सामने आने के बाद पुरुषोत्तम शर्मा ने कहा, मैंने कोई क्राइम नहीं किया है। ये मेरे और मेरी पत्नी के बीच का पारिवारिक मामला है। अगर वह मुझसे इतनी नाराज है तो मेरे साथ क्यों रहती हैं। मेरे पैसे का इस्तेमाल क्यों करती है? मेरे पैसों पर विदेश यात्राएं क्यों करती है? यह मेरा पारिवारिक मामला है, इसे मैं खुद सुलझा लूंगा, मैं मेरी पत्नी से लगातार संपर्क में हूं, मैं पूरी कोशिश कर रहा हूं कि यह मामला सुलझा लिया जाए। यह सेल्फ डिफेंस के तहत झूमा-झटकी का मामला है। मैंने कोई मारपीट नहीं की है, सिर्फ धक्का-मुक्की और झूमा झटकी हुई है।

यह मेरे लिए बहुत दुर्भाग्यपूर्ण- पुरुषोत्तम शर्मा
वायरल वीडियो को लेकर उन्होंने कहा, मेरी पत्नी और मेरा बेटा ही बता सकते हैं कि उन्होंने वीडियो क्यों वायरल किया। मेरी पत्नी ने पूरे घर में सीसीटीवी कैमरे लगा रखे हैं। मैं जहां जाता हूं , मेरा पीछा करती है मुझे स्टॉक करती है। मैं बहुत परेशान हूं, 2008 में भी उन्होंने मारपीट की शिकायत की थी। आज 12 साल बाद पता नहीं फिर उन्हें मुझसे क्या तकलीफ हो गई। अगर मुझसे वो इतनी दुखी थीं तो इतने साल मेरे साथ क्यों रहीं। यह मेरे लिए बहुत दुर्भाग्यपूर्ण हैं।

हनी ट्रैप केस में सामने आया था पुरुषोत्तम शर्मा का नाम
एसटीएफ और साइबर सेल के डीजी रह चुके पुरुषोत्तम शर्मा का नाम हनी ट्रैप केस में भी सामने आया था। हालांकि, उन्होंने सभी आरोपों को खारिज कर दिया था और तत्कालीन डीजीपी वीके सिंह पर कई गंभीर आरोप लगाए थे। उन्होंने वीके सिंह के सुपरविजन में बनी एसआईटी और गाजियाबाद का फ्लैट खाली कराए जाने पर भी सवाल उठाए थे।