• Dainik Bhaskar Hindi
  • State
  • Vikas Dubey live Update Kanpur Encounter Gangster Vikas Dubey dead Up police STF Car Accident Ujjain Yogi govt

दैनिक भास्कर हिंदी: Vikas Dubey Encounter: कानपुर में मारा गया गैंगस्टर विकास दुबे, यूपी एसटीएफ ने एनकाउंटर में किया ढेर

July 10th, 2020

हाईलाइट

  • आठ पुलिसकर्मियों की हत्या का आरोपी विकास दुबे मारा गया
  • उत्तर प्रदेश एसटीएफ ने कानपुर में एनकाउंटर में किया ढेर

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या का मास्टरमाइंड विकास दुबे शुक्रवार को पुलिस एनकाउंटर में मारा गया। गुरुवार को मध्यप्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार किए गए गैंगस्टर विकास दुबे को शुक्रवार सुबह कड़ी सुरक्षा के बीच कानपुर लाया जा रहा था। इसी बीच कानपुर टोल नाके से करीब 25 किलोमीटर दूर विकास दुबे को ला रही कार पलट गई। मौके का फायदा उठाकर विकास दुबे ने पुलिस से हथियार छीनकर भागने की कोशिश की। जिसके बाद पुलिस के साथ मुठभेड़ में मारा गया। 

एनकाउंटर के दौरान क्रॉस फायरिंग में विकास दुबे के सीने पर तीन और हाथ में एक गोली लगी थी। चार पुलिसकर्मी और एसटीएफ के दो जवान भी घायल हुए हैं। मौत के बाद विकास दुबे का कोरोना टेस्ट किया गया। उसकी जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। अब हैलेट अस्पताल में विकास के शव का पोस्टमॉर्टम हो रहा है। 

दरअसल मध्यप्रदेश के उज्जैन में महाकाल मंदिर से गिरफ्तार किए गए गैंगस्टर विकास दुबे को शुक्रवार सुबह कड़ी सुरक्षा के बीच कानपुर ले जाया जा रहा था। विकास दुबे को कानपुर ला रही एसटीएफ के काफिले की एक गाड़ी कानपुर के बर्रा पुलिस क्षेत्र में भारी बारिश के कारण पलट गई। इसी गाड़ी में विकास बैठा था। इस हादसे में विकास सहित वाहन में सवार दो अन्य पुलिसकर्मी भी घायल हो गए।

घटना के बाद जैसे ही विकास को वाहन से बाहर निकाला गया, उसने घायल सिपाही की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की। जब पुलिस ने आत्मसमर्पण करने के लिए कहा तो उसने पुलिस पर फायरिंग कर दी, इसमें भी एसटीएफ के दो सिपाही घायल हो गए। इसके बाद मुठभेड़ हो गई और पुलिस की जवाबी फायरिंग में विकास दुबे को गोली लग गई। विकास दुबे को गंभीर हालत में अस्पताल ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

बताया जा रहा है कि, जब विकास को कानपुर ले जाया जा रहा था। उस दौरान पुलिस के काफिले का पीछा कर रहे मीडियाकर्मियों को कानपुर के सचेंदी इलाके में रोक दिया गया था। इसके कुछ देर बाद सुबह करीब 6.30 बजे पुलिस एनकाउंटर में विकास दुबे मारा गया।

यूपी के एडीजी (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने बताया, एनकाउंटर के दौरान तीन सब-इंस्पेक्टर, एक कॉन्स्टेबल और STF को दो कमांडो जख्मी हुए हैं। कानपुर मुठभेड़ केस में अब तक 3 लोग गिरफ्तार हुए हैं, 6 मारे गए हैं और IPC की धारा 120बी के तहत सात लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है।

गौरतलब है कि, कानपुर के चौबेपुर थाना क्षेत्र के बिकरू गांव में दो जुलाई की रात दबिश देने गई पुलिस की टीम के एक सीओ, तीन दारोगा तथा चार सिपाही की हत्या की वारदात को अंजाम देने के बाद से हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे फरार चल रहा था। पुलिस की भारी भरकम टीमें यूपी के साथ-साथ अन्य राज्यों में भी उसकी तलाश में लगी हुई थीं। पुलिस ने मोस्टवॉन्टेड विकास दुबे के जगह-जगह पर पोस्टर्स भी लगवाए गए थे।

विकास पर यूपी पुलिस ने पांच लाख रुपए का इनाम घोषित कर रखा था। इन सबके बावजूद भी विकास दुबे लगातार पुलिस को चकमा दे रहा था और वह यूपी से लेकर हरियाणा और फिर मध्य प्रदेश तक पहुंच गया। गैंगस्टर विकास दुबे ने गुरुवार को मध्य प्रदेश के उज्जैन में महाकालेश्वर मंदिर में दर्शन के लिए पर्ची कटाई और इसके बाद मीडिया और पुलिस के सामने सरेंडर कर दिया। जिसके बाद पुलिस उसे पड़क कर थाने ले गई थी।