दैनिक भास्कर हिंदी: गांव वालों ने खुलकर किया नक्सलियों का विरोध, जलाए नक्सली पोस्टर

May 23rd, 2018

डिजिटल डेस्क, अहेरी/गड़चिरोली। कसनासुर-बोरिया घटना के बाद जहां आम जनता राहत महसूस करने लगा था, वहीं नक्सलियों ने इसे अपनी सबसे बड़ी हार मानते हुए अब जिले में उधम मचा रखा है। क्षेत्र के लोग नक्सलियों की करतूतों का अब खुलकर विरोध करने लगे हैं।  तहसील के कुमरगुड़ा गांव के आदिवासियों ने नक्सली बैनरों की होली जलाकर नक्सलियों का विरोध किया।

एकजुट होकर कर ग्रामीण कर रहे विरोध
बता दें कि, नक्सली संगठनों के प्रतिरोध सप्ताह के दौरान लगाए गए नक्सली बैनरों  को भामरागढ़ तहसील के अनेक ग्रामवासियों ने मिलकर आग के हवाले किया था। सोमवार देर रात तहसील के आलापल्ली-भामरागढ़ महामार्ग पर नक्सलियों ने सरकार के खिलाफ बैनर लगाए। इन बैनरों के माध्यम से नक्सलियों ने वन विभाग और भाजपा सरकार का विरोध किया।

बैनर लगाए जाने की जानकारी मिलते ही कुमरगुड़ावासियों ने मौके पर पहुंचकर बैनर निकाल लिये और  मुख्य चौक पर  बैनरों की होली जलायी। बता दें कि, नक्सलियों द्वारा लगाए गए बैनरों में कसनासुर-बोरिया की घटना के विरोध में आगामी 25 मई को गड़चिरोली जिला बंद का आह्वान किया गया है। नक्सलियों के इसी आह्वान का ग्रामवासियों ने विरोध किया है।

इधर मुख्य सड़क पर नक्सलियों ने लगाया बैनर 
भामरागढ़ की मुख्य सड़क पर नक्सलियों ने बैनर लगाकर 19 से 25  मई तक जिला बंद का आह्वान किया है। इस दौरान नक्सलियों ने कई जगह पोस्टर और बैनर भी लगाए लेकिन अब ग्रामीणों में उनकी दहशत कम होती दिखाई दे रही है। बता दें कि, प्रतिरोध सप्ताह के दौरान भामरागढ़ की हाल्टिंग बसों को अहेरी की ओर नहीं छोड़ा गया। इससे यात्रियों व सरकारी कर्मचारियों को हालांकि परेशानी हुई।

वहीं मंगलवार प्रात: समीपस्थ हेमलकसा स्थित लोक बिरादारी अस्पताल में दाखिल मरीजों के परिजनों को पैदल ही भामरागढ़ जाना पड़ा। जिले में हुई विभिन्न मुठभेड़ों में मारे गये नक्सलियों की याद में बंद को सफल बनाने का आह्वान भी बैनरों के माध्यम से किया गया है। इस संबंध में जानकारी मिलते ही भामरागढ़ पुलिस  ने  मौके पर जाकर बैनर जब्त किए और लोगों को दहशतमुक्त करने का प्रयास किया।