राजधानी रायपुर: 32 फीसदी आरक्षण लागू हो,तभी अनशन से हटूंगा : साय 

November 28th, 2022

डिजिटल डेस्क , रायपुर। राजधानी रायपुर की सडक़ पर पंडाल लगा कर 5 दिन से आरक्षण की मांग पर धरना दे रहे भाजपा के वरिष्ठ आदिवासी नेता नंदकुमार साय अपने इरादे पर अटल हैं। वे कहते हैं कि जब तक आदिवासियोंं को 32 प्रतिशत आरक्षण नहीं दिला दूंगा, अनशन से नहीं हटूंगा। खास बात ह कि उनके इस धरने में भाजपा के बजाय आदिवासी समाज के लोग ही ज्यादा नजर आते हैं। आरक्षण को लेकर मचे बवंडर के लिए वे कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराते हुए कहते हैं कि प्रदेश में आदिवासी समुदाय की आबादी बड़ी है। ठीक ढंग से सर्वे हो तो यहां जनजाति समुदाय का आरक्षण और बढ़ेगा। ये आरक्षण 60 से 80 प्रतिशत तक जा सकता है। मगर सर्वे में गड़बड़ी की जाती है जानबूझकर, पीछे रखा जाता है। मुझे याद है एक गांव में सिर्फ 2 आदिवासी बताए गए थे, जबकि पूरा गांव आदिवासियों का था। उन्होंने कहा विधानसभा में विधेयक आएगा, राज्यपाल के हस्ताक्षर के बाद गजट प्रकाशन होगा। हम ये भी देखेंगे कि कहीं फिर से ये मामला कोर्ट में चला जाए फिर से कोई अड़ंगा न आ जाए, 32 प्रतिशत आरक्षण व्यवस्था सिस्टम में आ जाए तभी हम यहां से हटेंगे।