पुलिस की सफलता: महिला नक्सली को गिरफ्तार कर निष्क्रिय किया विस्फोटक

August 6th, 2022

डिजिटल डेस्क, गड़चिरोली। 28 से 3 अगस्त की कालावधि के दौरान नक्सलियों द्वारा मनाए गए नक्सल शहीद सप्ताह के दौरान गड़चिरोली के सुरक्षा बलों को भारी सफलता मिली है। जहां सी-60 जवानों ने गत 3 अगस्त को एटापल्ली उपविभाग के तहत आने वाले हालेवारा क्षेत्र से 2 लाख रुपए इनामी एक महिला नक्सली को गिरफ्तार किया, वहीं 4 अगस्त को कुरखेड़ा उपविभाग के तहत आने वाले हेटलकसा जंगल परिसर में नक्सलियों द्वारा लगाए गए विस्फोटक काे निष्क्रिय कर नक्सलियों के मंसूबों को नाकाम कर दिया। उल्लेखनीय है कि, शहीद सप्ताह की कालावधि में नक्सली किसी भी बड़ी या छोटी घटनाओं को अंजाम नहीं दे पाए। जबकि नक्सलियों की सारी योजना विफल साबित होने से एक बार फिर पुलिस जवानों का मनोबल बढ़ा है।

 पुलिस सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, गत 3 अगस्त को एटापल्ली उपविभाग के तहत आने वाले हालेवारा परिसर में सी-60 के जवानों की नाकाबंदी के दौरान एक महिला संदेहास्पद स्थिति में पाई गई। अधिक जांच करने पर वह नक्सली पाई गई। उसका नाम मुडे हिडमा मडावी होकर वह कसनुसर नक्सल दलम की सदस्य होने की जानकारी मिली। वह मूलत: छत्तीसगढ़ राज्य के सुकमा जिले की निवासी होकर सरकार ने उस पर 2 लाख रुपए का इनाम घोषित किया था। पुलिस जवानों ने उसे गिरफ्तार कर गड़चिरोली मुख्यालय पहुंचा दिया है। वर्तमान में पुलिस महिला नक्सली से पूछताछ कर रही है। दूसरी एक घटना में 4 अगस्त को सी-60 के जवान नक्सल खोज मुहिम पर तैनात थे। इस दौरान कुरखेड़ा तहसील के कोटगुल पुलिस मदद केंद्र के तहत आने वाले हेटलकसा जंगल परिसर में विस्फोटक होने की जानकारी मिलते ही सुरक्षाबलों ने बम शोधक व नाशक दल की मदद से विस्फोटक बरामद कर लिया। साथ ही विस्फोटक को बड़ी ही सतर्कता से निष्क्रिय किया। कार्रवाई में पुलिस ने 2 प्रेशर कुकर, 4 रिमोट, 3 वायर बंडल, 8 पैकेट डिस्टेंपर कलर, 2 नक्सली िकताबें समेत अन्य नक्सल सामग्री बरामद की है। सुरक्षाबलों को मिली इस सफलता पर पुलिस अधीक्षक अंकित गोयल ने उक्त दोनों कार्रवाइयों में शामिल विशेष अभियान दल, सीआरपीएफ के जवान और बम शोधक व नाशक दल के जवानों की हौसलाअफजाई की है। इस समय पुलिस अधीक्षक गोयल ने नक्सलियों से आत्मसमर्पण योजना के तहत आत्मसमर्पण कर समाज की मुख्य धारा से जुड़ने की अपील भी की है।