दैनिक भास्कर हिंदी: मां को पीटने वाले छोटे भाई की कुल्हाड़ी मारकर हत्या 

April 23rd, 2019

डिजिटल डेस्क,छिंदवाड़ा। मां ने रुपए देने से इनकार किया तो छोटा भाई उसके साथ बेरहमी से मारपीट कर रहा था। मां के साथ हो रही मारपीट बड़े भाई से देखी नहीं गई तो उसने कुल्हाड़ी से वार कर छोटे भाई की हत्या कर दी। घटना अमरवाडा थाना क्षेत्र के ग्राम मरकावाड़ा की है। पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया है। 

मां से मांगे थे रूपये
पुलिस ने बताया कि मरकावाडा निवासी 35 वर्षीय पंजी पिता रग्गू उईके ने शहर से बाहर जाने की बात कहते हुए सोमवार सुबह 9.30 बजे अपनी मां कौशल्याबाई (60) से रुपयों की मांग की। मां कौशल्याबाई ने उसे दो हजार रुपए दे दिए। पंजी ने ओर रुपयों की मांग की तो उसने देने से इनकार कर दिया। इस बात पर नाराज बेटे ने मां से विवाद करते हुए मारपीट शुरू कर दी। विवाद के दौरान बड़ा भाई रांगनंदन (40) घर पर मौजूद था। उसने विवाद शांत कराना चाहा तब भी पंजी नहीं माना और मां के साथ मारपीट करता रहा। मां के साथ हो रही मारपीट से गुस्साएं रामनंदन ने कुल्हाड़ी से पंजी पर हमला कर दिया। सिर पर कुल्हाड़ी लगने से घायल पंजी की मौके पर मौत हो गई। पुलिस ने प्ररकण दर्ज कर आरोपी को हिरासत में ले लिया है।

छिंदवाड़ा घूमने आ रहा था मृतक
पुलिस ने बताया कि मृतक पंजी सोमवार को छिंदवाड़ा आने की तैयारी कर रहा था। छिंदवाड़ा में खर्च के लिए उसे रुपयों की जरुरत थी। मां ने दो हजार रुपए दिए तो ओर रुपयों की मांग करते हुए वह विवाद कर रहा था। इस विवाद के दौरान बड़े भाई ने उसकी हत्या कर दी।

ससुर और साले ने लाठियों से दामाद को पीटा, मौत
मोहखेड़ थाना क्षेत्र के खुनाझिरकला में रविवार रात एक युवक को उसके ससुर और साले ने लाठियों से बेरहमी से पीटा। पिटाई में गंभीर रुप से घायल युवक को 108 एम्बुलेंस से जिला अस्पताल लाया गया। यहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर मामले को जांच में लिया है। अस्पताल चौकी पुलिस ने बताया कि 40 वर्षीय संतोष पिता भजन पंद्राम को रविवार देर रात घायल अवस्था में जिला अस्पताल लाया गया था। यहां इलाज के दौरान रात लगभग 3.30 बजे संतोष की मौत हो गई। 
संतोष की पत्नी खेलवंतीबाई ने पुलिस को बताया कि उसके पिता सुंदर सिंह उईके और भाई आकाश सिंह का शराब के नशे में अक्सर पति संतोष से विवाद होता था। बीते शनिवार को भी उनके बीच विवाद हुआ था। रविवार रात वह शादी समारोह में शामिल होने गांव में ही गई थी। रात लगभग 1.30 बजे जब वह वापस लौटी तो पति घर पर नहीं था। पड़ोसियों ने बताया कि पति संतोष घर से कुछ दूरी पर मैदान में घायल अवस्था में पड़ा है। पहले लगा कि उसका एक्सीडेंट हुआ है। बाद में घायल पति ने बताया कि ससुर सुंदर सिंह और साले आकाश सिंह ने उसके साथ मारपीट की है जिसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। 
 

खबरें और भी हैं...