दैनिक भास्कर हिंदी: 267 मिलियन फेसबुक यूजर्स का बड़े पैमाने पर डेटा लीक, जांच जारी

December 23rd, 2019

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। फेसबुक अपने उपयोगकर्ताओं के डेटा सुरक्षा को लेकर एक बार फिर से सवालों के घेरे में है। दरअसल हाल ही में असुरक्षित डेटाबेस में 267 मिलियन फेसबुक यूजर्स आईडी और फोन नंबर उजागर होने की खबर सामने आई है। डेटाबेस को हाल ही में एक साइबर सिक्योरिटी फर्म, कम्पेरिटेक द्वारा सुरक्षा शोधकर्ता बॉब डियाचेंको के साथ साझेदारी में खोजा गया। 

फेसबुक ने रिपोर्ट का जवाब देते हुए कहा है, कि वह वर्तमान में सामने आए डेटाबेस के बारे में रिपोर्ट की जांच कर रहा है। एक रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि जिस सर्वर में डेटा रखा गया है वो सिक्योर नहीं है और न ही पासवर्ड प्रोटेक्टेड है। इसी डेटाबेस में 267 मिलियन फेसबुक यूजर्स का डेटा रखा है।

रिपोर्ट की मानें तो 267 मिलियन यूजर्स की आईडी, फोन  नंबर्स और नाम ऑनलाइन पब्लिक हो गए हैं। रिसर्चर का कहना है कि फेसबुक का ये डेटा अवैध स्क्रैपिंग ऑपरेशन या फेसबुक API का गलत यूज करके कलेक्ट किया गया है।

अमेरिकी टेक वेबसाइट Engadget से फेसबुक ने कहा है, 'हम इस मामले को देख रहे हैं, लेकिन हम ऐसा मानते हैं कि ये डेटा पिछले कुछ सालों से पहले का है, क्योंकि हमने हाल ही में यूजर्स की इनफॉर्मेशन प्रोटेक्ट करने के लिए बदलाव किए हैं'

फेसबुक के प्रवक्ता के अनुसार, “हम इस मुद्दे पर गौर कर रहे हैं, लेकिन लोगों की जानकारी को बेहतर तरीके से सुरक्षित रखने के लिए पिछले कुछ सालों में किए गए बदलावों से पहले यह संभवत: प्राप्त जानकारी है।” रिपोर्टों के अनुसार, फेसबुक उपयोगकर्ताओं द्वारा सार्वजनिक रूप से सूचीबद्ध किए गए लाखों फोन नंबर एक ऑनलाइन फोरम में साझा किए गए थे, जहां हैकर्स हैंग करते हैं।

आपको बता दें कि यह पहली बार नहीं है जब फेसबुक यूजर्स का डेटा लीक हुआ है। इससे पहले भी फेसबुक पर कई बार उपयोगकर्ता की गोपनीयता लीक हुई है।