रिपोर्ट: प्ले स्टोर पर ऐप अनुमतियों की सूची वापस लेगा गूगल

July 22nd, 2022

डिजिटल डेस्क, सैन फ्रांसिस्को। टेक दिग्गज गूगल ने अब कहा है कि वह प्ले स्टोर पर ऐप अनुमतियों की सूची को वापस ले रहा है। टेकक्रंच की रिपोर्ट के मुताबिक, एंड्रॉइड डेवलपर्स ने ट्विटर पर लिखा, टेक दिग्गज ने हालांकि यह नहीं बताया कि प्ले स्टोर पर परमिशन सेक्शन कब वापस आएगा। एंड्रॉइड समुदाय में गोपनीयता और पारदर्शिता मुख्य मूल्य हैं। हमने आपकी प्रतिक्रिया सुनी कि आपको गूगल प्ले में ऐप अनुमतियां अनुभाग उपयोगी लगता है और हमने इसे बहाल करने का निर्णय लिया है। ऐप अनुमतियां अनुभाग जल्द ही वापस आ जाएगा।

उन्होंने आगे कहा, डेटा सुरक्षा अनुभाग यूजर्स को एक सरल ²श्य प्रदान करता है कि कैसे कोई ऐप उपयोगकर्ता डेटा एकत्र करता है, साझा करता है और सुरक्षित करता है, लेकिन हम यूजर्स के लिए ऐप अनुमतियों की जानकारी को आसानी से देखने योग्य बनाना चाहते हैं ताकि विशिष्ट प्रतिबंधित डेटा और कार्यो तक पहुंचने के लिए ऐप की क्षमता को भी समझा जा सके।

गूगल ने पिछले साल घोषणा करने के बाद अप्रैल में प्ले स्टोर पर डेटा सुरक्षा लेबल लॉन्च किए। दूसरी ओर, एप्पल ने 2020 में अपना डेटा गोपनीयता लेबल लॉन्च किया, जिसमें दिखाया गया था कि कोई ऐप लोगों से कौन सा डेटा एकत्र कर सकता है। चूंकि गूगल पिछले कुछ महीनों में सभी ऐप्स में डेटा सुरक्षा लेबल को रोल आउट कर रहा था, कई ब्लॉग और शोधकर्ताओं ने नोट किया कि गूगल ने अनुमति अनुभाग को भी हटा दिया है, जिससे किसी को यह देखने की अनुमति मिलती है कि प्ले स्टोर से आपके फोन पर किस प्रकार का डेटा एक्सेस है।

इससे पहले महीने में, गूगल ने पुष्टि की थी कि उसने 13 जुलाई को प्ले स्टोर से अनुमतियां अनुभाग हटा दिया था, लेकिन यह नहीं बताया कि इसे क्यों हटाया गया था। टेक दिग्गज ने कहा कि इसे एंड्रॉइड समुदाय से फीड के आधार पर बहाल किया जा रहा है, लेकिन यह विस्तार से नहीं बताया कि इसे पहले स्थान से क्यों हटाया गया।

उपयोगकर्ता अभी भी अपने फोन पर ऐप्स मेनू पर जा सकते हैं और व्यक्तिगत ऐप के लिए अनुमतियां देख सकते हैं, लेकिन यह केवल गूगल के ऐप स्टोर पर इंस्टॉल पेज पर दिखाई नहीं देता है। लेकिन नया बदलाव उन्हें सीधे प्ले स्टोर से डेटा सुरक्षा लेबल और ऐप अनुमतियां दोनों देखने देगा।

आईएएनएस

डिस्क्लेमरः यह आईएएनएस न्यूज फीड से सीधे पब्लिश हुई खबर है. इसके साथ bhaskarhindi.com की टीम ने किसी तरह की कोई एडिटिंग नहीं की है. ऐसे में संबंधित खबर को लेकर कोई भी जिम्मेदारी न्यूज एजेंसी की ही होगी.