दैनिक भास्कर हिंदी: Weekly Review: लॉकडाउन में ढील से शेयर बाजार में लौटी तेजी, 3 हफ्तों बाद सेंसेक्स, निफ्टी में बढ़त

May 30th, 2020

हाईलाइट

  • लॉकडाउन में ढील से शेयर बाजार में लौटी तेजी, 3 हफ्तों बाद सेंसेक्स, निफ्टी में बढ़त (साप्ताहिक समीक्षा)

डिजिटल डेस्क, मुंबई, 30 मई (आईएएनएस)। देशव्यापी लॉकडाउन में ढील मिलने और आर्थिक गतिविधियां पटरी पर लौटने की उम्मीदों से इस सप्ताह घरेलू शेयर बाजार गुलजार रहा। जोरदार लिवाली आने से सप्ताह के दौरान चार कारोबारी सत्रों में से तीन सत्रों में प्रमुख संवेदी सूचकांकों ने जबरदस्त बढ़त बनाई।

सेंसेक्स और निफ्टी, दोनों में 30 अप्रैल के बाद पहली बार साप्ताहिक बढ़त दर्ज की गई। इस तरह लगातार तीन सप्ताह गिरावट के बाद सेंसेक्स और निफ्टी में साप्ताहिक तेजी दर्ज की गई।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सप्ताह के आखिरी सत्र में शुक्रवार को पिछले सप्ताह की क्लोजिंग के मुकाबले 1751.51 अंकों यानी 5.71 फीसदी की तेजी के साथ 32424.10 पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएससई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी ने भी पिछले सप्ताह के मुकाबले 541.05 अंकों यानी 5.99 फीसदी की तेजी के साथ 9580.30 पर विराम लिया।

बीएसई मिडकैप सूचकांक पिछले सप्ताह के मुकाबले 573.20 अंकों यानी 5.09 फीसदी की तेजी के साथ 11,843.22 पर बंद हुआ और स्मॉलकैप सूचकों 368.37 अंकों यानी 3.50 फीसदी की तेजी के साथ 10,892.60 पर ठहरा।

हफ्ते की शुरुआत में सोमवार को ईद-उल-फितर त्योहार का अवकाश होने के कारण घरेलू शेयर बाजार में कारोबार बंद रहा, जबकि अगले दिन मंगलवार को सेंसेक्स पिछले सत्र से 63.29 अंकों की गिरावट के साथ 30,609.30 पर बंद हुआ और निफ्टी महज 10.20 अंक फिसलकर 9029.05 पर रुका।

हालांकि बुधवार को घरेलू शेयर बाजार की गिरावट थम गई और तेजी का सिलसिला शुरू हुआ। जोरदार लिवाली से सेंसेक्स पिछले सत्र के मुकाबले 995.92 अंकों यानी 3.25 फीसदी की छलांग लगाकर 31,605.22 पर जाकर ठहरा। वहीं, निफ्टी भी 285.90 अंकों यानी 3.17 फीसदी उछलकर 9314.95 पर रुका।

घरेलू शेयर बाजार में लौटी यह तेजी अगले दिन गुरुवार को भी जारी रही, जब सेंसेक्स पिछले सत्र से 595.37 अंकों यानी 1.88 फीसदी की तेजी के साथ 32,200.59 पर बंद हुआ और निफ्टी ने भी 175.15 अंकों यानी 1.88 फीसदी की जबरदस्त बढ़त बनाकर 9,490.10 पर विराम लिया।

तेजी का यह सिलसिला सप्ताह के आखिरी सत्र में शुक्रवार को भी जारी रहा, जबकि सत्र के दौरान शुरुआती कारोबार में कमजोर विदेशी संकेतों से बिकवाली का दबाव बना रहा, लेकिन लॉकडाउन में ढील मिलने की उम्मीदों से लिवाली लौटी और सेंसेक्स लगातार तीसरे सत्र में 223.51 अंकों यानी 0.69 फीसदी की बढ़त बनाकर 3424.10 पर बंद हुआ। निफ्टी भी पिछले सत्र से 90.20 अंकों यानी 0.95 फीसदी की तेजी के साथ 9,580.30 पर बंद हुआ।

दुनियाभर में कहर बरपा रही कोरोना (कोविड-19) महामारी के वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए एहतियाती कदम उठाते हुए भारत सरकार ने 24 मार्च को ही देषभर में संपूर्ण लॉकडाउन की घोषणा की थी, जिसकी समय-सीमा चार बार बढ़ाई जा चुकी है। देशव्यापी लॉकडाउन 4.0 की समय-सीमा 31 मई को समाप्त हो रही है।

उम्मीद की जा रही है कि लॉकडाउन की समय-सीमा आगे बढ़ाई भी जाएगी तो उसमें पहले की अपेक्षा ज्यादा ढील हो सकती है, जिससे कारोबारी गतिविधियों में तेजी देखने को मिल सकती है।

उधर, शुक्रवार को केंद्रीय सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार, बीते वित्तवर्ष 2019-20 में देश में सकल घरेलू उत्पाद यानी जीडीपी की सालाना वृद्धि दर 4.2 फीसदी रही, जबकि पिछले साल 2018.19 में 6.1 फीसदी थी।

देश की आर्थिक विकास की गाड़ी की रफ्तार बताने वाले ये आंकड़े निराशाजनक हैं, हालांकि आंकड़े आने से पहले घरेलू शेयर बाजार में बीते सत्र में तेजी का रुझान बना रहा।

 

खबरें और भी हैं...