दैनिक भास्कर हिंदी: बाजार: दुनिया की 40वीं मूल्यवान कंपनी बनी रिलायंस, पहली बार मार्केट कैप 200 अरब डॉलर के पार

September 11th, 2020

हाईलाइट

  • दुनिया की 40वीं मूल्यवान कंपनी बनी रिलायंस
  • पहली बार मार्केट कैप 200 अरब डॉलर के पार
  • RIL एशिया की शीर्ष 10 सबसे मूल्यवान कंपनियों में भी शामिल हो चुकी है

डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। मार्केट कैपिटल के लिहाज से देश की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (RIL) अब दुनिया की 40वीं सबसे मूल्यवान कंपनी बन गई है। इसके साथ ही रिलायंस इंडस्ट्रीज 210 अरब डॉलर का मार्केट कैप छूने वाली भारत की पहली कंपनी बन गई है। 

मार्केट एनालिस्ट के मुताबिक, रिलायंस इंडस्ट्रीज वर्तमान में दुनिया की 40वीं सबसे मूल्यवान कंपनी है और यह एक्सॉन मोबिल, पेप्सिको, एसएपी, ओरेकल, फाइजर और नोवार्टिस जैसी कंपनियों से आगे है। RIL एशिया की शीर्ष 10 सबसे मूल्यवान कंपनियों में भी शामिल हो चुकी है।

यह पहली बार है कि किसी भी भारतीय कंपनी ने 200 अरब डॉलर के मार्केट कैप (बाजार पूंजीकरण) के स्तर को छुआ है। 19 जून, 2020 को रिलायंस ने 150 अरब डॉलर के मार्केट कैप को पार किया था और इसने 60 दिनों के कम समय में इन्वेस्टर वैल्यू में 60 अरब डॉलर का इजाफा किया है।

रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर एनएसई इंट्रा-डे पर गुरुवार को 2,344.95 रुपए के अपने सर्वकालिक रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया और कारोबार के अंत में 7.29 फीसदी की बढ़त के साथ 2,319 रुपए पर बंद हुआ। एनएसई पर रिलायंस पीपी के शेयर में 10 फीसदी का अपर सर्किट लगा और यह 1,393.7 रुपए के अभी तक के उच्च स्तर (ऑल-टाइम हाई) पर बंद हुआ। इससे इंट्रा-डे में कंपनी का मार्केट कैप 15.45 लाख करोड़ रुपए यानी 210 अरब डॉलर के स्तर पर पहुंच गया। 10 सितंबर, 2020 को आरआईएल का मार्केट कैप 208.3 अरब डॉलर रहा।

उल्लेखनीय है कि अमेरिका की कंपनी सिल्वर लेक पार्टनर्स ने बुधवार को रिलायंस की रीटेल कंपनी रिलायंस रीटेल वेंचर्स में एक अरब डॉलर के निवेश की घोषणा की थी। इस खबर से कंपनी के शेयर को पंख लग गए और उन्होंने नया स्तर छू लिया। इस साल कंपनी के शेयरों में 47 फीसदी से अधिक तेजी आई है।