गिरावट जारी: पाकिस्तानी रुपये ने तोड़े पिछले सारे रिकॉर्ड

April 1st, 2022

हाईलाइट

  • मार्च में अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपये में 3.38 फीसदी (या 6.07 रुपये) की गिरावट आई

डिजिटल डेस्क, इस्लामाबाद। पाकिस्तान की मुद्रा में गिरावट में राहत की फिलहाल कोई राह नहीं दिख रही है, क्योंकि चल रही राजनीतिक अनिश्चितता और आर्थिक फैसलों में देरी के बीच अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये में गिरावट जारी है, खासकर अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के साथ चल रही सुस्त रफ्तार से चल रही बातचीत कोई उम्मीद नहीं जगा रही है।

जियो न्यूज के मुताबिक, चालू वित्तवर्ष (2021-22) की शुरुआत के बाद से पाकिस्तान के इतिहास में पहली बार मुद्रा 183 रुपये के स्तर को पार कर गई है, जो 25 रुपये से अधिक है।

इंटर-बैंक बाजार में गुरुवार को रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 183.48 रुपये पर बंद हुआ था। मार्च में अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपये में 3.38 फीसदी (या 6.07 रुपये) की गिरावट आई है। जियो न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, विपक्ष का नंबर गेम मजबूत होने के साथ ही प्रधानमंत्री इमरान खान ने उनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव वापस लेने पर विधानसभा भंग करने की पेशकश की है।

सूत्रों के मुताबिक, एक महत्वपूर्ण शख्सियत ने इमरान खान की ओर से नेशनल असेंबली में विपक्ष के नेता शाहबाज शरीफ को संदेश दिया है।अविश्वास प्रस्ताव पर बहस के लिए महत्वपूर्ण नेशनल असेंबली सत्र से पहले गुरुवार को विपक्षी नेताओं की बैठक के दौरान यह खुलासा हुआ।यह साझा किया गया कि प्रधानमंत्री ने गहराते राजनीतिक संकट के बीच अपने लिए सुरक्षित मार्ग चुना है।

जियो न्यूज ने सूत्रों के हवाले से बताया कि इमरान खान ने कहा है कि अगर विपक्ष उनके सुझाव से सहमत नहीं है, तो वह किसी भी स्थिति का सामना करने के लिए तैयार हैं।

आईएएनएस