अकोला में पीसीपीएनडीटी दल की कार्रवाई : एक गर्भपात सेंटर अस्थायी सील - तीन को नोटिस, हो रही सोनोग्राफी सेंटरों की भी जांच

February 21st, 2022

डिजिटल डेस्क, अकोला। शहर समेत जिले में सोनोग्राफी व गर्भपात सेंटरों की जांच मुहिम चलाई जा रही है। इस मुहिम के तहत महानगरपालिका क्षेत्र में सेंटरों की पड़ताल की गई, जिसमें लाइसेन्स नूतनीकरण न करवानेवाले एक गर्भपात सेंटर को अस्थायी सील लगाया गया। वहीं पीसीपीएनडीटी कानून के तहत दस्तावेज परिपूर्ण न होन से तीन सेंटर को नोटिस जारी किए गए। मनपा के पीसीपीएनडीटी दल द्वारा की गई इस कार्रवाई से सेंटर संचालकों में हड़कम्प मच गया है। राज्य सरकार ने राज्य के सभी सोनोग्राफी व गर्भपात सेंटरों की जांच करने के आदेश आरोग्य विभाग को दिए है। उसके तहत 28 फरवरी तक सभी सेंटरों की पड़ताल की जाएगी। अकोला महानगरपालिका क्षेत्र में 119 सोनोग्राफी सेंटर है, जिसमें से 97 सेंटरों की जांच शनिवार तक पूरी की गई। वहीं 76 गर्भपात सेंटर है। 

इन सेंटरों में से 69 की जांच पूरी की गई। एक गर्भपातसेंटर लाइसेन्स नूतनीकरण के बिना चलाया जा रहा था। पड़ताल में यह सामने आने से मनपा के दल ने सेंटर को अस्थायी सील लगा दिया। इसी प्रकार दो सेंटरों द्वारा रजिस्टर सही ढंग से नहीं चलाया गया, जिससे उन्हें नोटिस दी गई। 

एक सेंटर के दस्तावेजों में गड़बड़ी पाए जाने से उसे भी नोटिस दी गई। 28 फरवरी तक मनपा क्षेत्र में जांच मुहिम जारी रहेगी, जिसमें शेष सेंटरों की पड़ताल भी पूरी की जाएगी। मनपा के डा. फारूख शेख, डा. अनूप चौधरी समेत उनकी टीम जांच मुहिम में जुटी हुई है।