• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Akola Municipality - budget of 1200 crores will be presented for the first time, an increase of more than double

अकोला मनपा: पहली बार पेश होगा 1200 करोड़ का बजट, दोगुने से अधिक की वृध्दि

February 21st, 2022

डिजिटल डेस्क, अकोला। महानगरपालिका की आय लगभग संपत्ति कर वसूली पर निर्भर है, जिससे बजट भी इसी आय के हिसाब से बनता रहा है। किंतु इस बार अन्य विभागों के जरिए आय बढ़ने की उम्मीद मनपा प्रशासन को है। इस कारण बजट दोगुने से भी अधिक बढ़ाया गया है। अकोला महानगरपालिका के इतिहास में पहली बार 1200 करोड़ का बजट पेश किया जाएगा। बजट पूरी तरह चुनावी रहने के आसार है। सोमवार 21 फरवरी को मनपा आयुक्त द्वारा स्थायी समिति सभा में बजट पेश किया जाएगा। संशोधन के बाद स्थायी समिति सभापति बजट को महासभा में रखेंगे। 

महानगरपालिका के बजट को लेकर मनपा प्रशासन की ओर से तैयारी की गई है। मनपा निधि से 386 करोड़, शासन निधि से 686 करोड़ तथा असाधारण ऋण व निलंबन लेखे से 172 करोड़ मिलाकर 1244 करोड़ का खर्च करने का नियोजन किया है। इस प्रकार सन 2021-22 के संशोधित व सन 2022-23 के मूल बजट को स्थायी समिति व सर्वसाधारण सभा में मंजूरी प्रदान की जाएगी। उल्लेखनीय है कि अकोला महानगरपालिका की आय में वित्तीय वर्ष 2021-22 में रिकार्ड वृध्दि दर्ज की गई है। कोरोना संकट के दौर में भी 70 करोड़ से अधिक का संपत्ति कर वसूल किया जा चुका है। इसके अलावा मोबाइल कंपनियों से भी करोड़ों वसूले गए है। अन्य कार्रवाइयों के माध्यम से भी जुर्माने के रूप में आय बढ़ाने का प्रयास किया गया। इस कारण पहली बार मनपा का बजट दोगुने से अधिक बढ़ाया गया है।

महानगरपालिका की आय में संपत्ति कर तथा जीएसटी अनुदान की राशि का सबसे बड़ा योगदान रहता है, जिससे विगत वित्तीय वर्ष में 231 करोड़ की आय के आंकड़े बजट में दर्शाए गए थे, लेकिन इस बार लगभग 150 करोड़ अधिक याने 386 करोड़ की उम्मीद जताई जा रही है। संपत्ति कर वसूली से 153 करोड़, जीएसटी अनुदान से 97 करोड़, विकास शुल्क से 24 करोड़, जलकर से 15 करोड़, दुकानों के किराए व अवैध टॉवरों से 20 करोड़, अवैध निर्माणों से जुर्माना वसूली से 15 करोड़ मिलाकर 386 करोड़ की आय संभावित दर्ज की गई।