दैनिक भास्कर हिंदी: बोगस बीज व खाद बेचने वालों की शामत, कृषि केन्द्रों पर छापा मारकर जब्त किया माल

June 3rd, 2019

डिजिटल डेस्क, भंडारा।  खरीफ सीजन शुरू होने को है। किसान इसके लिए जी-तोड़ मेहनत कर रहे हैं लेकिन बोगस बीज  व नकली खाद से किसानों की मेहनत और उम्मीदें धरी की धरी रह जाती है लिहाजा किसानों पर इस तरह की परिस्थिति ही निर्माण न हो इसके लिए कृषि विभाग सक्रिय होकर कार्रवाई कर रहा है। इसी कड़ी में जिलास्तरीय उड़न दस्ते ने आसगांव, कुर्झा, नाकाडोंगरी के साथ अन्य जगह के कृषि केंद्र पर छापा  मारकर बीज व खाद की जांच की। इसमें दुकान संचालक के खरीदी व बिक्री केंद्र के व्यवहार में अंतर पाए जाने पर  बीज व खाद की बिक्री करने पर बंदी के आदेश निकाले गए। कृषि विभाग द्वारा की गई कार्रवाई  से जिले में बोगस बीज व खाद बेचने वाले कृषि केंद्र चालकों में  खलबली मची हुई है।

जिला अधीक्षक कृषि अधिकारी हिंदूराव चव्हाण, कृषि विकास अधिकारी एस.बी.डबरे, तहसील कृषि अधिकारी अविनाश कोटांगले, जिला गुणनियंत्रण अधिकारी म्हसकर, पवनी के कृषि अधिकारी एस.टी.लांजेवार आदि अधिकारियों के छापामार पथक के माध्यम से जिले के विविध कृषि केंद्र की जांच की।  पवनी तहसील के आसगांव में श्रीगुरुदेव कृषि केंद्र में बीज व खाद की जांच की गई। इसमें विविध कंपनी के धानबीज की बिक्री पर पाबंदी लगाई गई। इस कृषि केंद्र में खाद की खरीदी के बिल उपलब्ध नहीं होने, पीओएस मशीन बंद मिलने, जमा पुस्तिका व दुकान का नाम  फलक  कंपनी के आदेश में शामिल नहीं होने के कारण कृषि केंद्र पर बंदी के आदेश दिए गए। साथ ही  सदगुरु कृषि केंद्र पालोरा,  स्वास्तिक कृषि केंद्र कुर्झा, विविध कार्यकारी सेवा सहकारी संस्था आसगांव, अध्येय कृषि केंद्र वलनी में भी कृषि अधिकारियों के छापामार पथक द्वारा कृषि केंद्र की जांच कर बोगस पाए जाने पर कार्रवाई की गई।

इन कृषि केंद्रों पर बीज व खाद की जांच की गई। खाद में  386 69 टन जमा खाद की जांच की गई। इसकी कीमत 61.96    लाख रुपये बताई गई। तुमसर में कृषि विस्तार अधिकारी बोरले के साथ जिला स्तरीय छापामार पथक के अधिकारियों ने नाकाडोंगरी के कृषि केंद्र की जांच की। इसमें विजय कृषि केंद्र में 336.18  क्विंटल बीज की जांच कर बिक्री पर बंदी लगाई गई। तुमसर तहसील में कुल 667 क्विंटल बीज जिसकी कीमत 34  लाख 30 हजार रुपये की जांच कर बंदी लगाई गयी।