दैनिक भास्कर हिंदी: बुरहानपुर: 32 वां सड़क सुरक्षा माह का शुभारंभ यातायात के नियमों का पालन कर, सुरक्षित रहें

January 19th, 2021

डिजिटल डेस्क, बुरहानपुर। बुरहानपुर इंदिरा कॉलोनी स्थित ऑडिटोरियम में आज पुलिस विभाग द्वारा 32 वां सड़क सुरक्षा माह का शुभारंभ हुआ। इस अवसर पर जिला सत्र न्यायाधीश श्री वीरेन्द्र एस.पाटीदार, कलेक्टर श्री प्रवीण सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री राहुल कुमार लोढा, न्यायाधीशगण, नगर निगम आयुक्त श्री भगवानदास भूमरकर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री एम.के.प्रसाद सहित गणमान्य नागरिकगण तथा थाना प्रभारियों सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे। जिला सत्र न्यायाधीश श्री वी.एस.पाटीदार ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि सड़क सुरक्षा माह मनाने की जिम्मेदारी जिन्हें दी गई है वे इसे बखूभी निभायेंगे। उन्होंने कहा कि अधिकतर वाहन दुर्घटनाएं शराब पीकर वाहन चलाने, ओवरटेक करने, सीट बेल्ट का उपयोग ना करने, बिना हेलमेट के वाहन चलाने से होती है। उन्होंने कहा कि जब भी वाहन चलाये तो वैध दस्तावेज अपने साथ अवश्य रखें और हेलमेट लगाकर वाहन चलाये। परिवार और अपनी सुरक्षा के लिए हेलमेट लगाकर ही वाहन चलाये कलेक्टर श्री प्रवीण सिंह ने कहा कि सड़क सुरक्षा माह नागरिकों को यातायात के नियमों का पालन करवाने हेतु महत्वपूर्ण अभियान है। इसका उद्देश्य मात्र चालानी कार्यवाही नहीं करना है अपितु यातायात के नियमों का पालन करवाना है, क्योंकि परिवार का जिम्मेदार व्यक्ति आजीविका उपार्जन के लिए घर से बाहर आना-जाना करते है। स्वयं की जिम्मेदारी है कि वह सावधानी रखें, हेलमेट पहनकर वाहन चलाये और यातायात के नियमों का पालन करें। उन्होंने बेहतर कार्यक्रम आयोजित करने पर पूरी पुलिस विभाग की टीम को शुभकामनाएं दी।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सड़क सुरक्षा माह मनाने का उद्देश्य अधिक से अधिक नागरिकों को यातायात के नियमों का पालन करने हेतु जागरूक करना है। उन्होंने कहा कि अधिकतर मृत्यु सड़क दुर्घटनाओं से होती है। अपनी एवं अपने परिवार को दृष्टिगत रखते हुए हमेशा हेलमेट लगाकर ही वाहन चलाये। कार्यक्रम अवसर पर उपस्थितजनों को सुरक्षा शपथ दिलाई गई। सड़क सुरक्षा माह के शुभारंभ अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री ए.के.प्रसाद ने पूरे माह की कार्ययोजना प्रस्तुत करते हुए कहा कि यह कार्यक्रम 4 सप्ताह में बांटा गया है। उन्होंने कहा कि इस दौरान विभिन्न गतिविधियां आयोजित की जायेगी। जिसमें महिलाओं के लिए निःशुल्क पिंक ड्रायविंग लायसेंस तैयार करना, पिंक पार्किंग तैयार करना, एलईडी के माध्यम से यातायात के नियमों के बारे जागरूक करना, थानावार नुक्कड़ नाटक, स्वैच्छिक रक्तदान, नेत्र परीक्षण, पिंक लायसेंस का वितरण करना सहित अन्य गतिविधियां आयोजित की जायेगी।