दैनिक भास्कर हिंदी: CAA हिंसा पर CM योगी की सख्ती, बोले- जब्त की जाएगी दोषियों की संपत्ति

December 20th, 2019

हाईलाइट

  • हिंसकों की संपत्ति जब्त कर नुकसान का हर्जाना वसूलेगी UP सरकार
  • CAA पर विरोध के चलते उत्तर प्रदेश में 8 नवंबर से लागू है धारा 144
  • CCTV कैमरों में कैद हो चुके हैं उपद्रवियों के चेहरे : CM योगी

डिजिटल डेस्क, लखनऊ। उत्तर प्रदेश में नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) के विरोध में हिंसक प्रदर्शन कर सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों की संपत्ति जब्त की जाएगी। योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को ये बात कही। उन्होंने प्रदर्शकारियों से शांति की अपील भी की। 

 

 

सीएम योगी ने सख्ती के साथ कहा कि 'मैंने इस मुद्दे पर बैठक बुलाई है। आप विरोध के नाम पर हिंसा नहीं कर सकते। हम ऐसे तत्वों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे।' उन्होंने कहा कि 'जो भी इस हिंसा का जिम्मेदार होगा, उसकी जवाबदेही भी तय करेंगे।' सीएम योगी ने कहा कि 'उपद्रवियों के चेहरे वीडियोग्राफी और सीसीटीवी कैमरों में कैद हो चुके हैं। हिंसा में दोषी पाए जाने वाले लोगों की संपत्ति जब्त की जाएगी और सार्वजनिक संपत्ति को हुए नुकसान का हर्जाना वसूला जाएगा।'

सीएम योगी ने कहा कि 'पूरे प्रदेश में 8 नंवबर से निरंतर धारा 144 लागू है। बिना परमिशन के कोई भी प्रदर्शन नहीं कर सकता है। प्रदर्शन के नाम पर हिंसा करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा।' उन्होंने यह भी कहा कि 'मैंने खुद लोगों से अपील की थी और कहा था कि लोकतंत्र में हिंसा के लिए कोई जगह नहीं है। आपसी संवाद से सभी समस्याओं का समाधान हो सकता है।'

सीएम योगी ने कहा कि 'CAA पर दुष्प्रचार करना बंद करना होगा। लोगों को वास्तविक जानकारी देनी होगी।' उन्होंने कहा कि 'राजनीति की रोटी सेंकने वाली कांग्रेस, सपा और वामपंथी संगठनों ने आज महाबंदी के नाम पर पूरे देश को आगजनी की चपेट में झोंकने का प्रयास किया है। यह अस्वीकार्य है और उत्तर प्रदेश में ऐसे अराजक तत्वों से हमारी सरकार सख्ती से निपटेगी।'