• Dainik Bhaskar Hindi
  • City
  • Guardian Minister's warning - If I do corruption of even one rupee, then I will get my hands cut

पालकमंत्री की चेतावनी : यदि एक रूपए का भी भ्रष्टाचार किया, तो हाथ कटवा लूंगा

March 1st, 2022

डिजिटल डेस्क, अकोला। फर्जी दस्तावेजों के आधार पर सरकारी निधि हड़प करने का प्रयास किया जा रहा है। ऐसा आरोप शालेय शिक्षामंत्री व पालकमंत्री ओमप्रकाश उर्फ बच्चू कडू पर वंचित बहुजन आघाडी के प्रदेशउपाध्यक्ष प्रा.धैयवर्धन पुंडकर ने लगाया है। न्यायालय में हुई सुनवाई के बाद न्यायाधीश ने इस मामले की जांच करने निर्णय देते हुए राज्यपाल से अनुमति मांगी थी। वंचित बहुजन आघाडी के सर्वेसर्वा एड प्रकाश आंबेडकर ने राज्यपाल भगतसिंग कोश्यारी से मुलाकात की थी। राज्यपाल ने दस्तावेजों की जांच के पश्चात मामला चलाने के लिए अनुमति जारी कर दी थी। ऐसी जानकारी पत्रकार परिषद में धैर्यवर्धन पुंडकर ने दी थी। इस आदेश के पश्चात पालकमंत्री तत्काल अकोला दौरे पर पहुंचे। मीडियाकर्मी से बातचीत करते हुए उन्होंने पुंडकर के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया। 

पुंडकर को दूसरे चश्मे की जरूरत

वंचित बहुजन आघाडी की ओर से जिस मार्ग को  लेकर  आरोप लगाया गया आज उस सड़क का पालकमंत्री ने जायजा लिया। अकोट तहसील में ग्राम कुटासा से कावसा मार्ग है। बातचीत के दौरान पालकमंत्री ने  प्रा . धैर्यवर्धन पुंडकर पर पलटवार करते हुए कहा कि उन्हें दूसरे चष्मे की जरूरत है। पुंडकर ने बालापुर तहसील की पंचशील संस्था हडप कर ली। वे वंचित के साथ में रहते हुए दलितों पर अन्याय करते हैं। वंचित के गृहमंत्री को बाहर निकाला जाए ऐसी सलाह भी पालकमंत्री ने एड आंबेडकर को दे डाली। इसके अलावा उन्होंने कहा कि यदि एक रूपए का भी उन्होंने भ्रष्टाचार किया हो तो वे पुंडकर के निवास स्थान के सामने अपना हाथ कलम करवा लेंगे। 

क्या है बच्चू कडू पर आरोप {शालेय शिक्षा राज्य मंत्री व अकोला जिले के पालकमंत्री बच्चू कडू पर आरोप है कि उन्होंने मार्ग निर्माण कार्य की निधि में भ्रष्टाचार किया। वंचित बहुजन आघाडी के एड प्रकाश आंबेडकर के नेतृत्व में एक शिष्टमंडल ने राज्यपाल भगतसिंग कोश्यारी से मुलाकात की थी। बच्चू कडू ने फर्जी दस्तावेज के आधार पर अस्तित्व में नहीं ऐसे मार्ग के निर्माण के लिए निधि हस्तातरित करने का आरोप लगाया था। इसकी सम्पूर्ण जानकारी राज्यपाल को दी गई थी, दस्तावेज की पड़ताल के बाद राज्यपाल ने कार्रवाई के लिए अनुमति प्रदान कर दी है। इसके अलावा अन्य जिला मार्ग व ग्राम मार्ग जो सरकारी दस्तावेजों में नहीं है उन मार्गों की सूची जिला परिषद में भेजकर बच्चू कडू ने शासकीय निधि की धांधली की। इस मामले को धैर्यवर्धन पुंडकर ने सामने लाया था, जिसके बाद पार्टी के सर्वेसर्वा एड आंबेडकर ने राज्यपाल से मुलाकात कर योग्य कार्रवाई की मांग की थी।