संक्रमण: अकोला बना हॉटस्पॉट - जिले की सभी तहसीलों में मिल रहे संक्रमित मरीज

January 20th, 2022

डिजिटल डेस्क, अकोला। नए वर्ष में विगत 17 दिन से कोरोना का संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। सोमवार को जांच में कमी के कारण संक्रमित कम पाए गए थे। लेकिन मंगलवार को आरटीपीसीआर की 772 रिपोर्टस आयी जिसमें एक ही झटके में 327 की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। निजी प्रयोग शाला से 9 पॉजिटिव मिलने के कारण एक दिन में आरटीपीसीआर से 336 पॉजिटिव बढ़े हैं। दूसरी ओर रैपिड की 563 टेस्ट में 31 पॉजिटिव आने से एक दिन में नए संक्रमितों की तादाद 367 से बढ़कर 60286 तक पहुंच गयी है। मंगलवार को 198 लोग डिस्चार्ज किए गए जिससे कुल डिस्चार्ज पाने वाले 57375 हो गए हैं। सौभाग्य से मंगलवार को किसी संक्रमित की मौत होने की खबर नहीं है। जिससे मृतक संख्या 1145 पर कायम है। 1766 एक्टिव इलाज करवा रहे हैं। 

198 को डिस्चार्ज - अपने अपने घरों में रहकर कोरोना संक्रमण का इलाज करवा रहे 198 लोगों के निगेटिव हो जाने के कारण उन्हें नियमानुसार डिस्चार्ज दिया गया जिससे अब तक डिस्चार्ज पाने वाले 57375 हो गए हैं। 1766 मरीजों पर इस समय इलाज चल रहा है।

मंगलवार को आरटीपीसीआर की दिन भर की टेस्ट रिपोर्ट में जीएमसी से 327 की रिपोर्ट पॉजिटिव आयी है। जिसमें 116 महिलाएं तथा 211 पुरुष शामिल हैं। इन 327 में 205 लोग अकोला शहर से हैं। अकोला ग्रामीण से 14, मूर्तिजापुर से 54, बार्शिटाकली से 14, पातूर तहसील से 8, बालापुर तहसील से 19 तथा अकोट तहसील से 13 संक्रमित उजागर हुए हैं। निजी लैब से 9 संक्रमित मिले हैं। इस तरह आरटीपीसीआर में 336 पॉजिटिव रहे। रैपिड में 31 पॉजिटिव मिलने से एक दिन में 367 संक्रमित बढ़े हैं।

कोरोना संक्रमण ने पकड़ी रफ्तार

अकोला महानगरपालिका क्षेत्र एक बार फिर हॉटस्पॉट में तब्दील हो गया है। तेजी से कोरोना संक्रमण फैला है, जिससे हर दिन 100 से अधिक मरीज सामने आ रहे है। वर्तमान में अकोला शहर में 1 हजार 54 एक्टीव मरीज है। जिले की तुलना में 60 प्रतिशत से अधिक मरीज सिर्फ अकोला शहर में ही पाए जा रहे है। इस कारण शहर क्षेत्र में अधिक सतर्कता बरतना आवश्यक हो गया है, लेकिन नागरिकों में लापरवाही देखी जा रही है।

पिछले 24 घंटों में मिले 193 पॉजिटिव
कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर के बीच बदले मौसम की वजह से शहर के हर घर में लगभग सर्दी,खासी एवं बुखार के मरीज है। जो टेस्टिंग करा रहे है उनके नाम ही आंकड़ों में दर्ज हो रहे है। ऐसी स्थिति में भी पिछले 24 घंटों में 193 मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इससे अनुमान लगाया जा सकता है कि कोरोना संक्रमण शहरी क्षेत्र में किस कदर फैल चुका है।

मनपा का कामकाज प्रभावित
अकोला महानगरपालिका पर ही कोरोना प्रतिबंधात्मक उपाययोजनाओं की जिम्मेदारी है, लेकिन कोरोना संक्रमण की चपेट में इस बार मनपा के अधिकारी, कर्मचारी बड़े पैमाने पर आए है। पहली व दूसरी लहर की तुलना में इस बार सभी निशाने पर आते दिखाई दे रहे है। मनपा के हर महकमे में कोई न कोई कर्मचारी कोरोना संक्रमित पाया जा रहा है, जिससे मनपा का कामकाज भी प्रभावित हो रहा है।